Home » इंडिया » SC vacates interim protection given to former Kolkata Police Commissioner Rajeev Kumar
 

जिस पुलिस अफसर के लिए ममता बनर्जी ने लिया था CBI से पंगा, सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें दिया बड़ा झटका

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 May 2019, 13:56 IST

लोकसभा चुनाव 2019 के बीच सुप्रीम कोर्ट ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खासमखास कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को बड़ा झटका दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने राजीव कुमार को गिरफ्तारी पर रोक संबंधी प्रोटेक्शन को वापस कर लिया है. इसके साथ ही कोर्ट ने उनको अग्रिम जमानत के लिए हाईकोर्ट का रुख करने के लिए 7 दिन का समय दिया है.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि राजीव कुमार सात दिन के अंदर अगर हाईकोर्ट का रुख नहीं करते और उनको वहां से अग्रिम जमानत नहीं मिलती है, तो CBI उन्हें सात दिन बाद गिरफ्तार कर सकती है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब सीबीआई उनके खिलाफ नोटिस जारी कर पाएगी और पूछताछ के लिए बुलाएगी. इससे पहले अभी तक सीबीआई ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं किया है.

बता दें कि कुछ महीने पहले सीबीआई के अधिकारी, राजीव कुमार से पूछताछ करने पहुंचे थे. तब कोलकाता पुलिस ने सीबीआई के अधिकारियों को हिरासत में ले लिया था. इसके बाद पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी सीबीआई के विरोध में धरने पर बैठ गई थीं. इसके अलावा बतौर कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार भी कथित रूप से धरने पर बैठे थे.

बाद में राजीव कुमार ने सीबीआई की गिरफ्तारी से राहत के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंचने के बाद राजीव कुमार को कमिश्नर पद से हटा दिया गया था. फिर उनकी नियुक्ति सीआईडी में की गई. हालांकि बाद में चुनाव आयोग ने राजीव कुमार को सीआईडी पद से हटा दिया और उनको वापस गृह मंत्रालय भेज दिया गया.

बस एक्सिडेंट में घायल मां, सिर से निकल रहा है खून, लेकिन खुद का दर्द भूल बच्चे को पिलाने लगी दूध

पीली साड़ी वाली खूबसूरत पोलिंग अफसर जाना चाहती हैं Bigg Boss, इंटरनेट पर मचा दी थी सनसनी

First published: 17 May 2019, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी