Home » इंडिया » sc warn to unitech director other you pay compensation or going to jail
 

सुप्रीम कोर्ट की यूनिटेक बिल्डर्स को दो टूक, ग्राहकों को हर्जाना दो नहीं तो जाओ जेल

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 July 2016, 15:56 IST
(यूनिटेक )

सुप्रीम कोर्ट ने आज अपने सख्त आदेश में यूनिटेक बिल्डर्स को दो टूक शब्दों में चेतावनी दी है कि अगर वह पीड़ित ग्राहकों को 12 अगस्त तक पांच करोड़ का हर्जाना नहीं देती है, तो उसके मालिक को जेल जाना होगा.

सुप्रीम कोर्ट ने नोएडा में यूनिटेक बिल्डर्स के बरगंडी सोसाइटी में ग्राहकों को तय समय सीमा में फ्लैट नहीं देने के मामले में सख्त रुख अपनाते हुए यह आदेश दिया है.

'12 अगस्त तक हर्जाना मिले'

सुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक से फ्लैट खरीददारों को फ्लैट का स्वामित्व देने में नाकाम रहने पर पांच करोड़ का अंतरिम मुआवजे देने का आदेश दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में साफ कहा है कि यूनिटेक के डायरेक्टर्स अगर ग्राहकों के पैसे 12 अगस्त तक नहीं दिए, तो उन्हें जेल जाना होगा.

दरअलस नोएडा के बरगंडी सोसाइटी में ग्राहकों को तय वक्त के दौरान फ्लैट देने में नाकाम रहने पर एनसीडीआरसी ने बिल्डर्स को हर्जाने का आदेश दिया था. जिसके खिलाफ यूनिटेक ने सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगाई थी.

लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में किसी तरह की राहत देने से यूनिटेक को साफ मना कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट का यह आदेश ग्राहकों के लिए बड़ी राहत लेकर आया है.

First published: 1 July 2016, 15:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी