Home » इंडिया » scientists discovers a billion treasure in Indian sea.
 

भारत के समुद्र में मिला अरबों का खजाना

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 July 2017, 14:57 IST
treasure

भारतीय वैज्ञानिकों को समुद्र में बड़ी कामयाबी मिली है. वैज्ञानिकों ने समुद्र के नीचे कीमती 'खजाना' खोज निकाला है. विशेषज्ञों के मुताबिक खजाना लाखों टन के कीमती खनिज आैर धातुआें के रूप में है. जियोलाॅजिकल सर्वे आॅफ इंडिया के वैज्ञानिकों का दावा है कि भारतीय प्रायद्वीपों के पानी में ये खजाना छुपा हुआ है. समुद्र में मिले इस खजाने की कीमत अरबों में है.  

2014 में पहली बार लगा था पता

भारतीय वैज्ञानिकों ने पहली बार मेंगलुरु, चेन्नर्इ, मन्नार बेसिन, अंडमान निकाेबार द्वीप आैर लक्षद्वीप के आसपास 2014 में इन धातुआें का पता लगाया था. वैज्ञानिकों को समुद्र के नीचे से लाइम मड, फोसफेट रिच आैर हाइड्रोकार्बन्स जैसी चीजें मिली हैं. इसी से अंदाजा लगाया जा रहा है कि पानी के भीतर बड़े पैमाने पर आैर भी कीमती धातु हो सकते हैं.

जीएसआई ने तैयार किया डॉटा

जियोलाॅजिकल सर्वे आॅफ इंडिया के वैज्ञानिकों ने करीब एक लाख 81 हजार वर्ग किमी का हार्इ रिजाॅल्यूशन सीबेड मॉरफोलाॅजिकल डाटा तैयार किया है. माना जा रहा है कि भारतीय इकोनाॅमिक जाेन में 10 हजार मिलियन टन से भी ज्यादा लाइम मड मौजूद है.

यहां मिल सकता है अरबों का खजाना

वैज्ञानिकों का ये भी मानना है कि मंगलुरु आैर चेन्नर्इ काेस्ट में बड़ी मात्रा में फास्फेट है.  वहीं तमिलनाडु के मन्नार बेसिन कोस्ट में गैस हाइडेट की बड़ी मात्रा मौजूद है, जबकि अंडमान सागर में मैगनीज आैर लक्षद्वीप के नजदीक माइक्रो नोडयूल है.

समुद्र की तह में खनिजों पर रिसर्च करने के लिए तीन जहाजों को लगाया गया है. इनमें समुद्र रत्नाकर, समुद्र कौस्तुभ आैर समुद्र सौदीकामा शामिल है.

First published: 17 July 2017, 14:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी