Home » इंडिया » Second part of Budget session resumes, government says no to discussion on Uttarakhand
 

संसद में उत्तराखंड मामले पर चर्चा से सरकार का इनकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 April 2016, 11:35 IST

संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण का आगाज हो गया है. इस बीच सत्र शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष से सहयोग की अपील की है. पीएम ने सदन में जाने से पहले मीडिया से बात की.

प्रधानमंत्री ने कहा, बजट सत्र का पहला हिस्सा काफी अच्छा रहा था, हमें भरोसा है कि इस सत्र में भी अच्छे फैसले लिए जाएंगे. पीएम ने सदन चलाने में विपक्ष से सहयोग की अपील की है.

modi budget

स्पीकर का चर्चा से इनकार


वहीं संसद का ये सत्र हंगामेदार रहने के आसार हैं. उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाने के मुद्दे पर विपक्ष सरकार को घेरने की तैयारी में है. हालांकि सरकार ने साफ किया है कि उत्तराखंड मसले पर संसद में चर्चा नहीं होगी.

रविवार को सर्वदलीय बैठक के दौरान कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि एक तरफ संविधान निर्मता बाबा साहब अंबेडकर की 125वीं जयंती मनाई गई, वहीं दूसरी ओर अरुणाचल के बाद उत्तराखंड में लोकतंत्र की हत्या की गई.

खड़गे ने कहा कि हम सभी काम रोककर इस पर चर्चा करना चाहते हैं. लेकिन लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने इस पर चर्चा कराने से इनकार कर दिया.

अदालत में लंबित मामला

संसदीय कार्य राज्यमंत्री राजीव प्रताप रूड़ी ने कहा कि फैसला तो स्पीकर को लेना है, लेकिन उत्तराखंड का मामला अभी अदालत में चल रहा है. 27 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई है. ऐसे में चर्चा कराना सही नहीं होगा.

स्पीकर सुमित्रा महाजन ने रविवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई थी, जिससे संसद की सुचारू रूप से कार्यवाही को सुनिश्चित किया जा सके. लेकिन बैठक में कांग्रेस, आरजेडी और जेडीयू ने उत्तराखंड के मुद्दे को उठाया.

उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन के मामले में सुप्रीम कोर्ट में 27 अप्रैल को सुनवाई होनी है. सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के राष्ट्रपति शासन हटाने के फैसले पर रोक लगा दी थी.

First published: 25 April 2016, 11:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी