Home » इंडिया » Security forces has ready blueprint to eliminate 200 terrorist active in Kashmir valley
 

घाटी में मौजूद 200 आतंकवादियों के खात्मे को सुरक्षाबलों ने तैयार किया ब्लूप्रिंट

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 March 2019, 10:11 IST

जम्मू-कश्मीर में मौजूद आतंकवादियों के खात्मे के लिए सुरक्षाबलों ने ब्लूप्रिंट तैयार कर लिया है. इस ब्लूप्रिंट से सुरक्षाबल कश्मीर घाटी में सक्रिय 200 आतंकवादियों को मौत के घाट उतार देंगे. इसके लिए सुरक्षाबल आने वाले दिनों में आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई तेज करेंगेकेंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े सूत्रों के मुताबिक आतंकियों पर चौतरफा दबाव है. क्योंकि भारतीय वायुसेना की ओर से पीओके में की गई आतंकवादी शिविरों पर कार्रवाई से आतंकी बौखलाहट में हैं.

वहीं पाकिस्तान सरकार पर आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए भारत सहित दुनियाभर के देशों का दबाव बना हुआ है. इसलिए माना जा रहा है कि अभी कुछ समय तक पाक की ओर से आतंकियों की घुसपैठ नहीं की जाएगी. घाटी में भी अतिरिक्त जवानों की तैनाती कर अभियान चलाया जा रहा है.

जानकारी के मुताबिक इस समय घाटी में हिजबुल, लश्कर, जैश और जेकेआईएसआईएस के भी कुछ आतंकी सक्रिया हैं. इनमें करीब 45-50 कुख्यात आतंकी है और कमांडर या उप कमांडर होने का दावा किया गया है. इनके पास नए युवाओं की भर्ती और प्रशिक्षण देने का जिम्मा है. वहीं सुरक्षा एजेंसियों ने आतंकियों के सफाए के साथ नई भर्तियों को भी रोकने का प्रयास भी शुरु कर दिया है. साथ ही सुरक्षाबल घुसपैठ पर भी लगातार नजर बनाए हुए हैं.

सूत्रों के मुताबिक सुरक्षा बलों ने इस बार आर-पार की रणनीति अपनाई है. इसमें जहां सेना, अर्धसैनिक बल और पुलिस मिलकर आतंकियों के सफाए में जुटी हैं, वहीं खुफिया एजेंसियों के जरिए नई भर्ती पर भी नजर रखी जा रही है. नए आतंकी बनने वालों को तुरंत गिरफ्तार करने की कोशिश है ताकि वह प्रशिक्षण ना पा सकें. सुरक्षा बलों की कोशिश है कि पुराने आतंकियों को मारने के साथ नई भर्ती की चेन को खत्म किया जा सके. सुरक्षाबलों की नई रणनीति के तहत सीमापार से नियंत्रण रखा या अंतरराष्ट्रीय सीमा से होने वाली घुसपैठ पर पूरी नजर रखी जा रही है.

सूत्रों के मुताबिक सुरक्षा बल कश्मीर के भीतर चल रहे आतंकी प्रशिक्षण शिविरों को भी नष्ट करेंगे. बताया जा रहा है कि सीमापार से आवाजाही में सख्ती की वजह से भी आतंकियों के आकाओं ने कश्मीर के भीतर भी कई छोटे-छोटे शिविर बना रखे हैं. जिनमें प्रशिक्षित आतंकी नए आतंकियों को प्रशिक्षण देते हैं.

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ प्रयागराज कुंभ 2019

First published: 4 March 2019, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी