Home » इंडिया » Seminar on the Ram Temple issue at the DU
 

डीयू में राममंदिर निर्माण पर सेमिनार, छात्र सं�--ठन विरोध में

आशीष पाण्डेय | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST
QUICK PILL
  • सुब्रमण्यम स्वामी ने राम मंदिर निर्माण संबंधी सेमिनार में यह कह कर नया विवाद पैदा कर दिया कि यदि यह साबित हो जाए कि विवादित स्थान पर मंदिर था तो मुलमान वहां से �...पना दावा छोड़ दें�--े.
  • इस सेमिनार का एनएसयूआई, आइसा �"र आम आदमी पार्टी के छात्र सं�--ठनों ने विरोध किया था.

दिल्ली विश्वविद्यालय में शनिवार को �...योध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर एक सेमिनार का आयोजन किया �--या. यह सेमिनार दो दिनों तक चले�--ा.

'राम जन्मभूमि मंदिर : उभरता परिदृश्य' के नाम से आयोजित इस सेमिनार को �...रूंधती वशिष्ठ �...नुसंधान पीठ शोध संस्थान, दिल्ली विश्वविद्यालय के कला संकाय में करा रहा है.

इस सेमिनार का एनएसयूआई, आइसा �"र आम आदमी पार्टी की छात्र इकाई विरोध कर रही हैं. �-बर है कि विरोध कर रहे छात्रों के साथ पुलिस की झड़प भी हुई है. विश्वविद्यालय में शांति व्यवस्था को पुलिस बल को भी तैनात किया �--या है.

�...रूंधती वशिष्ठ �...नुसंधान पीठ शोध संस्थान के �...ध्यक्ष सुब्रमण्यम स्वामी ने सेमिनार के उद्घाटन भाषण में कहा कि हम यहां इतिहासकार,पुरातत्वविद �"र कानून विशेषज्ञ राम जन्मभूमि मंदिर के विभिन्न विषयों पर चर्चा करें�--े.

एफटीआईआई में �--जेन्द्र चौहान की नियुक्ति �"र बीएचयू में संदीप पाण्डेय की बर्�-ास्त�--ी को लेकर शिक्षा ज�--त में विरोध का स्वर ऊंचा है


स्वामी ने कहा कि मुस्लिमों का कहना है कि यदि यह साबित हो जाए कि यहां मंदिर था तो वे �...पना दावा छोड़ दें�--े. स्वामी ने इस सेमिनार के विरोधियों को �...सहिष्णु बताया.

इससे पहले एफटीआईआई में �--जेन्द्र चौहान की नियुक्ति �"र बीएचयू में प्रोफ़ेसर संदीप पाण्डेय की बर्�-ास्त�--ी को लेकर शिक्षा ज�--त में विरोध का स्वर पहले से ही ऊंचा है. ऐसे में डीयू में राममंदिर पर हो रहा सेमिनार विवाद का मुद्दा बन �--या है.

इस मामले में दिल्ली विश्वविद्यालय के �...धिकारियों का कहना है कि सेमिनार के विषय से उनका कोई लेनादेना नहीं है �"र सं�--ठन ने कार्यक्रम के लिए आयोजन स्थल बुक किया है जो बाहरी लो�--ों के लिए किराए पर उपलब्ध है.

सेमिनार के विरोधी छात्र सं�--ठनों का कहना है कि ऐसे सेमिनार को परिसर में ज�--ह देकर विश्वविद्यालय प्रशासन डीयू का भ�--वाकरण कर रहा है. इसलिए हम इस फैसले का विरोध कर रहे हैं.

First published: 10 January 2016, 1:00 IST
 
आशीष पाण्डेय @catchhindi

संवाददाता, कैच हिंदी. बीएचयू से पॉलिटिकल साइंस(आनर्स). जामिया मिल्लिया इस्लामिया एमसीआरसी से मॉस कॉम. मल्टी-मीडिया जर्नलिस्ट के तौर पर डिजिटल, टेलीविज़न, डॉक्यूमेंट्री, रेडियो, सोशल मीडिया कैंपेनिंग, इलेक्शन कैंपेनिंग के लिए काम कर चुके हैं.

पिछली कहानी
अगली कहानी