Home » इंडिया » Senior officials have stopped us here saying Sec 144 is imposed here on, so we are stopping our Yatra
 

बीजेपी विधायक संगीत सोम ने सरधना में रोकी निर्भय यात्रा

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:50 IST
(फाइल फोटो)

बीजेपी के सरधना से विधायक संगीत सिंह सोम ने अपनी निर्भय यात्रा को रोक दिया है. इससे पहले कैराना के बीजेपी सांसद हुकुम सिंह की आपत्ति के बावजूद संगीत सोम ने आज यात्रा शुरू की थी.

बीजेपी विधायक संगीत सोम ने मेरठ के सरधना से शामली जिले के कैराना कस्बे के बीच करीब 40 किलोमीटर तक पैदल मार्च करते हुए निर्भय यात्रा निकालने का एलान किया था.

संगीत सोम ने यात्रा को रोकने का फैसला लेते हुए कहा, "वरिष्ठ अधिकारियों ने इलाके में धारा 144 लागू होने का हवाला देते हुए हमें रोक दिया, इसलिए हम अपनी यात्रा को यहीं पर रोक रहे हैं."

यूपी सरकार को 15 दिन का अल्टीमेटम

संगीत सिंह सोम मेरठ की सरधना सीट से बीजेपी के विधायक हैं. उन पर मुजफ्फरनगर में तीन साल पहले हुए दंगों को लेकर भी सवाल उठे थे. बताया जा रहा है कि करीब दो किलोमीटर तक चलने के बाद संगीत सोम ने निर्भय यात्रा को रोक दिया.

पढ़ें: कैराना में 'निर्भय यात्रा' Vs ‘सद्भावना यात्रा’

संगीत सोम ने कहा, "बीजेपी के कार्यकर्ता ऐसा कुछ भी नहीं करेंगे, जिससे कानून-व्यवस्था पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है."

साथ ही सोम ने यूपी सरकार को चेतावनी देते हुए कहा, "हम राज्य सरकार को 15 दिन के अंदर विस्थापित परिवारों को दोबारा यहां लाने का नोटिस देते हैं. अगर ऐसा नहीं होता है, तो हम सड़क पर उतरने को मजबूर होंगे."

बीजेपी पर शिवपाल का निशाना

इस बीच उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव ने कैराना में हिंदू परिवारों के पलायन के आरोप से साफ इनकार किया है.

शिवपाल ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, "गुजरात में दंगों के बाद बहुत से लोग विस्थापित हुए थे, पहले संगीत सोम और मोदी जी को इस बारे में चिंता करनी चाहिए. कैराना में कोई भी विस्थापित नहीं हुआ है."

पढ़ें: कैराना पहुंची बीजेपी की 9 सदस्यीय फैक्ट फाइंडिंग टीम

शिवपाल ने इस दौरान कहा, "कैराना से जो भी लोग बाहर गए हैं, उसके पीछे व्यावसायिक वजह है, रोजी-रोटी की तलाश में कुछ परिवार बाहर गए हैं. हम बीजेपी को इलाके का माहौल खराब नहीं करने देंगे."   

निर्भय यात्रा पर बंटी बीजेपी

बीजेपी के कैराना सांसद और कथित हिंदू पलायन के मसले को उठाने वाले हुकुम सिंह ने कहा था, "मेरी जानकारी में संगीत सोम कैराना नहीं जा रहे हैं. इससे सांप्रदायिक माहौल खराब हो सकता है."

इसके साथ ही बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने भी कहा, "मेरी तरफ से भी विधायक संगीत सोम को कैराना जाने को लेकर कोई सहमति नहीं है. हम कैराना के मामले में अभी किसी भी तरह का दखल नहीं देना चाहते हैं."

प्रदेश अध्यक्ष मौर्य ने आगे कहा, "हम अभी यही देख रहे हैं कि प्रदेश की समाजवादी सरकार इस मामले में क्या कर रही है. हम इस मसले पर गवर्नर की रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं, उसके बाद हम देखेंगे कि क्या करना है." 

आरोपों से पलटे थे हुकुम सिंह 

वहीं संगीत सोम की निर्भय यात्रा के विरोध में समाजवादी पार्टी के नेता अतुल प्रधान ने भी गुरुवार को एलान किया था कि वो ‘सद्भावना यात्रा’ निकालेंगे.

कैराना से बीजेपी सांसद हुकुम सिंह ने आरोप लगाया था कि कैराना में पिछले दो साल के दौरान 346 हिंदू परिवार पलायन कर गए. हालांकि बाद में वो अपने आरोपों से पलट गए थे.

पढ़ें: कैराना का पूरा सच वह नहीं है जो हुकुम सिंह बता रहे हैं

संगीत ने निकाली नई लिस्ट

इसके अलावा सरधना से बीजेपी विधायक संगीत सिंह सोम ने भी एक नई लिस्ट निकालते हुए कुछ परिवारों के विस्थापित होने का आरोप लगाया था.

कैराना मामले में बैकफुट पर आई बीजेपी के विधायक संगीत सोम ने दावा किया था कि कैराना से 10 हिंदुओं ने पलायन किया है. संगीत सोम ने जिन परिवारों की लिस्ट जारी की है, ये वे परिवार हैं जो कैराना से बाहर रह रहे हैं.

संगीत सोम ने लिस्ट में लोगों के नाम और मोबाइल नंबर भी दिए थे. सोम का कहना है कि जिस तरह से कैराना और यूपी के अन्य स्थानों पर डर का माहौल है उसे दूर किया जाएगा और देश को विखंडित करने वाली शक्तियों का पार्टी हर मोर्चे पर सामना करेगी.

कैराना तक निर्भय यात्रा का एलान

संगीत ने साथ ही कहा था, "भारत का संविधान प्रत्येक व्यक्ति को समानता और सुरक्षा का अधिकार प्रदान करता है. लेकिन, प्रदेश की सपा सरकार संविधान विरोधी ताकतों को संरक्षण देने का काम कर रही है."

संगीत सोम ने कहा था, "17 जून को सरधना से कैराना तक निर्भय यात्रा निकाली जाएगी.  यात्रा के माध्यम से यह संदेश दिया जाएगा कि यह हिंदुस्तान है, यहां पाकिस्तान जैसा माहौल बनाने का दुस्साहस समाज विरोधी ताकतों को नहीं करने दिया जाएगा."

First published: 17 June 2016, 1:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी