Home » इंडिया » sentence to death in rape and murder of a six year old girl in bengaluru
 

बेंगलुरु: 6 साल की बच्ची से बलात्कार और हत्या के मामले में कोर्ट ने सुनाई मौत की सजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 April 2018, 9:44 IST

बेंगलुरु की एक अदालत ने छह साल की बच्ची से बलात्कार करने और उसकी हत्या करने के जुर्म में एक 35 वर्षीय व्यक्ति को मौत की सजा सुनाई है. मामला पिछले साल 20 अप्रैल का है. 35 वर्षीय व्यक्ति अनिल बालागर ने पिछले साल 21 अप्रैल को बच्ची से बलात्कार किया था और उसकी हत्या कर दी थी. हालांकि पब्लिक प्रॉसिक्यूटर ने बताया कि ये फैसला केंद्र द्वारा पॉक्सो ऐक्ट के हालिया संशोधन के तहत नहीं लिया गया है.

जिसे लेकर बेंगलुरु की जिला अदालत ने अनिल को मौत की सजा सुनाई है. हांलाकि जिला अदालत के फैसले पर हाई कोर्ट की मुहर लगनी बाकी है. अभी दोषी अनिल बालागर के पास फैसले के खिलाफ याचिका दायर करने के लिए समय है.

शनिवार को 54 वें सिटी सिविल एवं सत्र न्यायाधीश एम लताकुमरई ने अनिल बालागर को बलात्कार और हत्या का दोषी ठहराया. न्यायाधीस ने उसे इन गुनाहों के लिए क्रमश: दस साल का सश्रम कारावास एवं मृत्युदंड सुनाया. अपने आदेश में न्यायाधीश ने कर्नाटक सरकार को बच्ची के माता-पिता को दो लाख रुपये का भुगतान करने को भी कहा.

क्या था मामला?

पब्लिक प्रॉसिक्यूटर सी वेंकटरमनप्पा ने बताया कि घटना वाले दिन बच्ची अपने दादा के घर के बाहर खेल रही थी. बच्ची के दादा के घर के ठीक सामने आरोपी का भी घर है. 21 अप्रैल 2017 की शाम करीब 6 बजे बच्ची गायब हो गई. काफी खोजबीन के बाद जब बच्ची का पता नहीं चला तो घरवालों ने मामला पुलिस में दर्ज कराया.

वहीं आठ बजे के करीब आरोपी अनिल घर छोड़कर भाग गया. तीन दिन बाद अनिल बालागर के घर से किसी चीज के सड़ने की बदबू आने लगी. जब पुलिस ने दरवाजा तोड़कर देखा तो अंदर बच्ची की लाश पड़ी थी. बता दें कि आरोपी दो लड़कियों का पिता है.

जांच में सामने आया कि आरोपी ने 6 साल की बच्ची से रेप के बाद तकिए से दबाकर हत्या कर दी थी. कोर्ट ने सजा सुनाते हुए हत्या के जुर्म में मौत की सजा वहीं बलात्कार के लिए 10 साल की सजा दी. इसके अलावा 10 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया.

First published: 30 April 2018, 9:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी