Home » इंडिया » Severe heat wave grips country, In Ahmedabad shatters century old record, Rajasthan's Phalodi boils at 51 degree celsius
 

जानलेवा गर्मी: फलौदी में 51 डिग्री का टॉर्चर, अहमदाबाद में 100 साल का टूटा रिकॉर्ड

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 May 2016, 16:32 IST

देशभर में पारे का टॉर्चर चरम पर है. झुलसाती जानलेवा गर्मी से लोग परेशान हैं. गुजरात के अहमदाबाद में पारे ने 100 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. वहीं राजस्थान के फलौदी में गुरुवार को तापमान 51 डिग्री पर पहुंच गया.

मौसम विभाग के अधिकारी ब्रह्मप्रकाश यादव के मुताबिक, देश में मौसम के उपलब्ध रिकॉर्ड में पहली बार किसी जगह इतना तापमान रिकॉर्ड हुआ है. चूरू में भी पहली बार तापमान 50.2 डिग्री दर्ज किया गया. 

अहमदाबाद में 48 डिग्री पारा

गुजरात के अहमदाबाद में एक सदी का रिकॉर्ड टूट गया. बीते 100 साल में यहां पहली बार तापमान 48 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ. गर्मी से राजस्थान में नौ लोगों की मौत की खबर है. वहीं मध्य प्रदेश में दो लोगों की जान चली गई.

देश की राजधानी दिल्ली में भी गुरुवार को अधिकतम तापमान 43.7 डिग्री और न्यूनतम तापमान 26.4 डिग्री दर्ज किया गया. 

फलौदी में 51 डिग्री तापमान दर्ज

राजस्थान के जोधपुर जिले में आने वाले फलौदी कस्बे में गुरुवार को पारा 51 डिग्री सेल्सियस के खतरनाक स्तर पर पहुंच गया. इससे पहले 1956 में अलवर (राजस्थान) में 50.6 डिग्री तापमान रिकॉर्ड किया गया था. भोपाल में 2010 में 25 मई को सबसे ज्यादा तापमान 46 डिग्री था.

उसके बाद सबसे ज्यादा 45.6 डिग्री तापमान गुरुवार को रिकाॅर्ड हुआ है. अन्य शहरों की बात करें, तो राजस्थान के बीकानेर, बाड़मेर, श्रीगंगानगर, जैसलमेर और झालावाड़ में भी तापमान 49 डिग्री या उससे ऊपर रहा. यूपी का बांदा लगातार दूसरे दिन राज्य का सबसे गर्म शहर रहा. यहां पारा 47.2 डिग्री दर्ज किया गया.

जालोर में दो की मौत


राजस्थान के जालोर जिले में गर्मी की चपेट में आकर दो लोगों की मौत हो गई. वहीं बीकानेर और चूरू में आज भी पारा 48 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है.

मौसम विभाग का कहना है कि 23 और 24 मई को एक पश्चिमी विक्षोभ (वेस्टर्न डिस्टरबेंस) सक्रिय होने वाला है.  हालांकि यह कमजोर है. इससे बारिश की संभावना कम है, लेकिन बादल जरूर छा सकते हैं. इस दौरान हवा में नमी की मात्रा बढ़ने से चिपचिपाहट वाली गर्मी परेशान करेगी.

वहीं 30 मई को एक और वेस्टर्न डिस्टरबेंस एक्टिव होने के आसार बन रहे हैं. इस दौरान हल्की बौछारें पड़ सकती हैं.

जानलेवा लू से बचें

50 डिग्री तापमान का मतलब है कि शरीर के तापमान 37 डिग्री सेल्सियस (98.4 डिग्री फॉरेनहाइट) से 13 डिग्री ज्यादा है बाहर का तापमान. 100 डिग्री सेल्सियस पर पानी उबल जाता है. तापमान आधे पर तो पहुंच चुका है.

ऐसे में लू के थपेड़ों से भी बचने की जरूरत है. अगर शरीर में भारीपन, सिरदर्द, प्यास लगना, थकावट, शरीर गर्म होना और पसीना ना आना जैसे लक्षण लू लगने के संकेत हैं. ऐसे में मरीज को तो ठंडे और छायादार जगह पर लिटाना चाहिए. 

रोगी की त्वचा को गीले कपड़े से स्पंज करें, साथ में डॉक्टर की सलाह लें. 

हरियाणा के स्कूलों में छुट्टी

इस बीच दिल्ली में अगले पांच दिन तक कोई राहत मिलने की उम्मीद नहीं है. लोगों को पहले की तरह लू और कड़ी धूप का सामना करना पड़ेगा. मध्य प्रदेश के प्रमुख शहरों में पारा 43 से 46 डिग्री के बीच है. वहीं उज्जैन में पारा 43.5 डिग्री के आसपास रहा. यहां सिंहस्थ कुंभ चल रहा है.

हरियाणा में आगामी दिनों में तापमान 47 डिग्री के पार पहुंचने की चेतावनी दी गई है. जिसके बाद राज्य के सभी सरकारी स्कूलों में गर्मी की छुटि्टयां 23 मई से 25 जून तक करने की घोषणा की गई है. पहले ये एक जून से होनी थीं.
First published: 20 May 2016, 16:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी