Home » इंडिया » Shaheed Major Chitreesh Vishal was due to be married on 7 March
 

शहीद मेजर चित्रेश विष्ट की 7 मार्च को होने वाली थी शादी, बांटे जा चुके थे शादी के कार्ड

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 February 2019, 12:50 IST

जम्मू-कश्मीर में शनिवार को हुए आईईडी विस्फोट में सेना का एक मेजर शहीद हो गया था.जम्मू कश्मीर में शहीद हुए मेजर चित्रेश को आज अंतिम विदाई दी जा रही है. मेजर चित्रेश की शादी 7 मार्च को होने वाली थी. शादी की पूरी तैयारियां पूरे जोरों-शोरों से चल रही थी.

इसी बीच शनिवार को मेजर के पिता को कॉल आया कि उनका बेटा चित्रेश शहीद हो गया है. इस खबर को सुनते ही पूरे परिवार में शादी के खुशनुमा माहौल की जगह दुखों का मातम छा गया. बेटे को सेहरा बांधने की जगह अब मेजर के परिवार ने आज उसका अंतिन संस्कार किया.

28 फरवरी को आने वाले थे मेजर

मेजर चित्रेश अपनी शादी के लिए 28 फरवरी को घर आने वाले थे. शहीद के पिता रिटायर इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह बिष्ट शनिवार को गांव में शादी का भेजने के लिए आईएसबीटी गए थे, इसी दौरान उनको कॉल आया कि उनका बेटा शहीद हो गया है.

बैंड-बाजा सहित शेरवानी शादी के लिए था तैयार

जानकारी अनुसार, मेजर चित्रेश पिछले महीने ही घर आए थे. इस दौरान उन्होंने शादी के लिए ज्यादातर खरीददारी कर ली थी. शेरवानी से लेकर शूट तक तैयार उन्होंने शादी के लिए खरीद लिया था.

इसी के साथ विवाह स्थल होटल सेफ्रोन लीफ में कहां क्या होना है यह सब चित्रेश तय कर चले गए थे. बैंडबाजा बुक कर लिया था. जब वे 2 फरवरी को वापस ड्यूटी लौटे, तो अपने माता-पिता से कहकर गए थे कि सभी काम हो चुका है बस शादी का कार्ड बांट लेना.

पुलवामा के बाद गुजरात में हो सकता है आतंकी हमला, स्टेच्यू ऑफ यूनिटी समेत कई महत्वपूर्ण स्थानों की सुरक्षा बढ़ी

आज हुआ अंतिम संस्कार

शहीद मेजर चित्रेश का आज अंतिम संस्कार किया गया. उनका पार्थिव शरीर रविवार को देहरादून लाया गया था.  इस बारे में उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने कहा, "अपने अदम्य साहस और शौर्य का प्रदर्शन करते हुए मेजर दून के लाल मेजर चित्रेश बिष्ट ने कर्तव्य पालन और राष्ट्र की रक्षा में सर्वोच्च बलिदान दिया है. शहीद के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करती हूं. हम सब शहीद के परिवार के साथ खड़े हैं."

सेना ने लिया पहला बदला, पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड गाजी राशिद को मार गिराया

वहीं, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा, "राजौरी के नौशेरा सेक्टर में आईईडी ब्लास्ट में उत्तराखंड के लाल मेजर चित्रेश बिष्ट शहीद हुए हैं. मैं मेजर चित्रेश के सर्वोच्च बलिदान को कोटि-कोटि नमन करते हुए उनके परिजनों के प्रति सांत्वना व्यक्त करता हूं और भरोसा दिलाता हूं कि पूरा देश मुश्किल समय में उनके साथ खड़ा है."

First published: 18 February 2019, 12:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी