Home » इंडिया » Shaheen Bagh Protest: 4 month old child death in protest, Supreme Court reprimanded
 

शाहीन बाग प्रदर्शन में 4 महीने के बच्चे की मौत पर भड़का सुप्रीम कोर्ट, पूछा- बच्चा खुद गया धरने पर?

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2020, 15:17 IST

Shaheen Bagh Protest: दिल्ली के शाहीन बाग में पिछले लगभग दो महीने से नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन हो रहा है. इसे लेकर सुप्रीम कोर्ट ने अब केंद्र सरकार और प्रशासन को फटकार लगाई है. वहीं,  प्रदर्शन के दौरान चार महीने के एक बच्चे की मौत को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है.

दरअसल, शाहीन बाग में प्रदर्शन में ठंड़ लगने से एक 4 महीने के बच्चे की मौत हो गई थी. बच्चे का नाम मोहम्मद था, बच्चे को उसकी मां हर रोज़ प्रदर्शन में लाती थी. मोहम्मद को शाहीन बाग में खुले में प्रदर्शन के दौरान ठंड लगी थी. मोहम्मद को भीषण जुकाम हुआ था और सीने में जकड़न हो गई थी. प्रदर्शनकारी मोहम्मद को अपनी गोद में खिलाते थे और उसके गालों पर तिरंगा बनाते थे.

बच्चे की मौत के बाद बाल पुरस्कार विजेता जेन सदावर्टे ने सुप्रीम कोर्ट को पत्र लिखा था. उन्होंने पत्र में बताया था कि प्रदर्शन में एक मां अपने चार महीने के बच्चे को लेकर जाती थी और सर्दी लगने के कारण उसकी मौत हो गई थी. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने मामले का संज्ञान लिया. 

सुप्रीम कोर्ट ने वकील से सख्त लहजे में सवाल किया कि क्या बच्चा खुद विरोध प्रदर्शन में गया था? इस पर सुप्रीम कोर्ट के  मुख्य न्यायाधीश जस्टिस एसए बोबडे ने यह भी कहा कि जिस किसी को भी अपनी बात कहनी है, वह याचिका दाखिल करे, उस पर सुनवाई होगी.

हालांकि शाहीन बाग प्रदर्शन में मौजूद तीन औरतों की वकीलों ने कोर्ट में अलग राय रखी. वकील ने बताया कि बच्चे की मौत प्रदर्शन में जाने से नहीं हुई. उन्होंने कहा कि अगर झुग्गी में रहने वाली मां प्रदर्शन में जाती है तो उसके बच्चे कहां रहेंगे. 

CM योगी के मंत्री बोले- दैत्यों की वंशज पहनती है बुर्का, बैन कर दो बंद हो जाएगी आतंकियों की घुसपैठ

शाहीन बाग प्रोटेस्ट: आप सार्वजानिक सड़क को इतने दिनों तक कैसे ब्लॉक कर सकते हैं- सुप्रीम कोर्ट

First published: 10 February 2020, 15:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी