Home » इंडिया » Shaheen Bagh Protest: Now people are not coming even after calling on loud speaker
 

शाहीन बाग प्रोटेस्ट: अब लाउड स्पीकर पर बुलाने के बाद भी नहीं आ रहे लोग, पसरने लगा सन्नाटा

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 February 2020, 15:21 IST

Shaheen Bagh Protest: दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता कानून(CAA) और NRC को लेकर पिछले 62 दिनों से विरोध प्रदर्शन चल रहा है. दिल्ली विधानसभा चुनाव(Delhi Assembly Elections) के प्रचार के दौरान शाहीन बाग में प्रदर्शन जोरों पर था. हालांकि अब यह प्रदर्शन काफी कमजोर हो गया है. बताया जा रहा है कि चुनाव के बाद शाहीन बाग प्रदर्शन में एक तरह से सन्नाटा पसरने लगा है.

मीडिया की खबरों के मुताबिक, शाहीन बाग में दिन के वक्त प्रदर्शनकारियों की संख्या न के बराबर हो गई है. हालांकि, शाम होने के बाद तथा रात में प्रदर्शनकारियों की संख्या में थोड़ी बढ़ोतरी हो जाती है, लेकिन यह भीड़ भी पहले की तरह नहीं है. 62 दिन के बाद प्रदर्शनकारियों की संख्या काफी कम दिखने लगी है.

आलम यह है कि प्रदर्शन में लोगों की संख्या बढ़ाने के लिए पूरे इलाके में लाउडस्पीकर से धरनास्थल पर पहुंचने का ऐलान करवाया जा रहा है. कुछ दिनों से लगातार लाउडस्पीकर से लोगों को धरनास्थल पर पहुंचने की अपील की जा रही है. इसके बाद भी लोग प्रदर्शन में नहीं पहुंच रहे हैं. 

वहीं भीड़ कम होने की बात पर प्रदर्शनकारियों का कहना है कि यह सब केवल अफवाह है. उन्होंने कहा कि  चुनाव के समय से ही लोग रात के वक्त आ रहे हैं क्योंकि रात में कई कार्यक्रम होते हैं. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि लोग अफवाह फैला रहे हैं कि भीड़ कम हुई है, लेकिन हमारा प्रदर्शन जारी है.

हालांकि, भीड़ कम होने की वजह से अब प्रदर्शनकारी भी आंदोलन खत्म कर कोई बीच का रास्ता निकालना चाहते हैं. प्रदर्शनकारियों ने गृह मंत्री अमित शाह से मिलने का समय मांगा है. गृह मंत्री अमित शाह ने भी एक दिन पहले नागरिकता कानून को लेकर कहा था कि यदि किसी को भी संदेह है तो वह इस मुद्दे पर आकर उनसे मिल सकता है और बात कर सकता है.

कांग्रेस नेता उदित राज का विवादित बयान, कहा- 2024 से पहले हो सकता है पुलवामा जैसा आतंकी हमला

पुलवामा के शहीद को भूली सरकार ! भाई ने कहा- बस चुनाव में इस्तेमाल करते रहे नेता

First published: 15 February 2020, 15:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी