Home » इंडिया » Madhya Pradesh: Shankaracharya Swaroopanand gets Rs 11.96 lakh tax relief from state government
 

शंकराचार्य को शिवराज से 12 लाख की टैक्स माफी

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 June 2016, 13:04 IST
(कैच न्यूज)

मध्य प्रदेश सरकार ने द्वारका पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती की लग्जरी गाड़ी का परमिट टैक्स माफ करने का फैसला लिया है.

शंकराचार्य ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अनुरोध किया था कि लग्जरी वाहन पर लगाए गए 11.96 लाख रुपये रोड टैक्स और जुर्माने को माफ कर दिया जाए.

दो महीने पहले शंकराचार्य द्वारा 15 लाख की बस को खरीदकर उस पर 1.82 करोड़ रुपये खर्च करके लग्जरी वाहन के रूप में मॉडिफाई किया गया था. 

नरसिंहपुर के जिला परिवहन अधिकारी ने बस पर 9.14 लाख रुपये का परमिट टैक्स और 1.82 लाख रुपये जुर्माना ठोका था. 15 महीने से टैक्स और पेनाल्टी की राशि अदा न करने की वजह से उन पर 90 हजार रुपये ब्याज हो गया. इस तरह शंकराचार्य पर बिना टैक्स चुकाए 11.96 लाख रुपये की देनदारी हो गई.

टैक्स माफी पर कैबिनेट की मुहर

शंकराचार्य अपनी इस बस पर इतना भारी टैक्स नहीं देना चाहते थे. जिसे लेकर गृह मंत्री बाबूलाल गौर ने रोड टैक्स को माफ कराने के लिए क़दम उठाया, लेकिन परिवहन विभाग ने टैक्स माफी से इनकार कर दिया. 

जिसके बाद गृह मंत्री बाबूलाल गौर ने परिवहन विभाग को पत्र लिखा. जिस पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट ने मुहर लगा दी.

प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में मंत्रि परिषद की बैठक में स्वामी स्वरूपानंद को लग्जरी गाड़ी पर परमिट टैक्स और जुर्माने की बकाया राशि माफ करने का निर्णय लिया गया है.

कैबिनेट ने यह फैसला शंकराचार्य की ओर से दिए गए आवेदन पर लिया. गौरतलब है कि शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने करीब डेढ़ करोड़ रुपए कीमत की तीन बसें खरीदी हैं. इनमें से एक जबलपुर के पास गोटेगांव स्थित आश्रम में और एक बस दिल्ली और एक उत्तराखंड स्थित आश्रम में रहेगी.

First published: 9 June 2016, 13:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी