Home » इंडिया » shankaracharya swaroopandanda saraswati attack on BJP-RSS says hindutva has harmed because of bhagwat
 

शंकराचार्य का BJP-RSS पर हमला- हिंदुत्व का सबसे ज्यादा नुकसान भागवत ने किया

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 May 2018, 10:02 IST

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत पर सीधा हमला बोला है. उनका कहना है कि पिछले कई सालों से आरएसएस और मोहन भागवत की वजह से ही हिंदुत्व को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है. मोहन भागवत पर भी तीखा हमला बोलते हुए शंकराचार्य ने कहा, ''यह हैरानी करने वाली बात है कि आरएसएस चीफ मोहन भागवत हिंदुत्व के बारे में कुछ नहीं जानते.''

इंडिया टुडे से बातचीत में शंकराचार्य ने कहा, ;भागवत कहते हैं कि हिंदुओं में शादी एक समझौता है, जबकि यह पूरी जिंदगी का साथ है. भागवत कहते हैं कि जो भारत में पैदा हुआ वो हिंदू है. ऐसे में इंग्लैंड और अमेरिका में हिंदू माता-पिता से पैदा लोगों को क्या कहेंगे?

ये भी पढ़ें- खुशख़बरी: मोदी सरकार का वरिष्ठ नागरिकों को बड़ा तोहफा, हर महीने मिलेगी 10,000 रुपये पेंशन

बीफ मामले में बीजेपी का है दोहरा चरित्र
बीफ विवाद पर एक सवाल के जवाब में शंकराचार्य ने कहा कि बीजेपी के नेता बीफ के सबसे ज्यादा निर्यातक हैं. उन्होंने इसे बीजेपी का दोहरा चरित्र बताया, जिसके तहत पार्टी गोहत्या की विरोधी है और बीफ के निर्यात को भारत की छवि पर धब्बा बताती है.

बीजेपी ने कितने वादे किए पूरे

शंकराचार्य ने यह भी सवाल उठाए कि क्या बीजेपी ने देश से किए अपने वादों को पूरा किया है? क्या कश्मीर से आर्टिकल 370 समाप्त कर दिया गया? क्या भारत के युवाओं को पर्याप्त रोजगार मिला? क्या पीएम मोदी के वादे के मुताबिक भारत के गरीबों को 15-15 लाख रुपये मिले? क्या अयोध्या में राम मंदिर बन गया? शंकराचार्य के मुताबिक, इन सभी सवालों का जवाब देने में पीएम मोदी समेत बीजेपी नेता नाकाम रहे हैं, जो 2014 के चुनाव प्रचार में इन्होंने किए थे.

ये भी पढ़ें- योगी सरकार के मंत्री का दिव्य ज्ञान- दलितों के घर खाने वाले बीजेपी नेता भगवान राम की तरह

कानून ने दी आसाराम को सजा अभी धर्म की सजा बाकी
शंकराचार्य ने बलात्कारी आसाराम पर उन्होंने कहा,''आसाराम को कानून के मुताबिक सजा मिली है, लेकिन उन्हें धर्म के मुताबिक सजा मिलनी बाकी है. न सिर्फ आसाराम बल्कि उनके बेटे नारायण स्वामी को भी कड़ी सजा मिलनी चाहिए. हिंदू धर्म में इन स्वयंभू बाबाओं की कोई जगह नहीं है. जब तक जनता मूर्ख बनती रहेगी, ऐसे लोग फायदा उठाते रहेंगे.

First published: 3 May 2018, 10:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी