Home » इंडिया » Shashi Tharoor: Make in India and hatred cannot go together
 

मेक इन इंडिया और नफरत एक साथ नहीं चल सकते: शशि थरूर

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 February 2016, 14:39 IST

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेसी नेता शशि थरूर ने मोदी सरकार पर ताना मारते हुए कहा है कि मेक इन इंडिया जैसी नीतियां नफरत के साथ नहीं चल सकती. उन्होंने कहा कि सत्ताधारी नेताओं द्वारा अल्‍पसंख्‍यकों के लिए उत्‍तेजक बयान देश की संस्कृति और विचार को कमजोर करते हैं.

हॉवर्ड युनिवर्सिटी में भारतीय वार्षिक सम्मेलन 2016 में बोलते हुए थरूर ने कहा, 'देश की प्रगति, विकास, इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए विदेशी निवेश तभी भारत आएगा जब देश की बहुलतावादी विचारधारा सुरक्षित रहेगी.'

थरूर ने कहा, 'अगर महाशक्ति बनना चाहते है तो पहले देश के भीतर घरेलू मसले हल करने होंगे. साथ ही, अपने लोगों को स्वस्थ और सुरक्षित रखने के लिए जरूरी कदम उठाने होंगे.'

शशि थरूर ने एनडीए सरकार की नीतियों पर निशाना साधते हुए कहा, 'अगर एक तरफ हम दुनिया में जाकर विदेशी निवेश आकर्षित करने के लिए मेक इन इंडिया, स्‍टार्ट अप इंडिया और डिजिटल इंडिया की बात करें और दूसरी तरफ हम यदि देश में घृणा को बढ़ने दें तो यह नहीं हो सकता.'

उन्होंने कहा कि अगर भारत, दुनिया का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करना चाहता है तो उसे अपनी बहुलतावादी सभ्यता की रक्षा संपत्ति की तरह करनी चाहिए.

First published: 8 February 2016, 14:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी