Home » इंडिया » Sheila Dixit will be the CM candidate of Congress in Uttar Pradesh
 

यूपी की शीला: कांग्रेस ने बनाया उत्तर प्रदेश में चेहरा

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 July 2016, 16:39 IST

कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए शीला दीक्षित को अपना सीएम उम्मीदवार बनाने का एलान किया है. इस बात के कयास पहले से ही लगाए जा रहे थे.

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जनार्दन द्विवेदी ने इसकी औपचारिक घोषणा करते हुए कहा कि पहली बार आप लोगों का अनुमान सही साबित हुआ है. 

संजय सिंह को प्रचार की कमान

जनार्दन द्विवेदी ने कहा, "आप इसे चुनाव का चेहरा कह लीजिए या सीएम उम्मीदवार, शीला दीक्षित उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का चेहरा होंगी."

प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद कांग्रेस के यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने साथ ही बताया कि यूपी में कांग्रेस के प्रचार की कमान राज्यसभा सदस्य और अमेठी से आने वाले पार्टी के नेता संजय सिंह के जिम्मे होगी.

शीला ने कहा बहुत बड़ी जिम्मेदारी

वहीं नाम का एलान होने के बाद सवालों का जवाब देते हुए शीला दीक्षित ने पार्टी का शुक्रिया अदा किया. एक नजर उत्तर प्रदेश में जिम्मेदारी मिलने के बाद उनकी प्रतिक्रिया पर:

  • बहुत बड़ी जिम्मेदारी मिली है
  • हर चुनाव एक चुनौती होता है
  • जिम्मेदारी के लिए हाईकमान का शुक्रिया
  • सबके साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे
  • कांग्रेस के लिए अच्छा नतीजा आएगा
  • यूपी में कांग्रेस के लिए आवाज उठ रही है
  • चुनौती बहुत बड़ी है, लेकिन हिम्मत के साथ जाएंगे
  • यूपी में सत्ता की दावेदार चार पार्टियां हैं
  • प्रियंका गांधी एक लोकप्रिय नेता हैं
  • मैं चाहूंगी कि प्रियंका चुनाव में प्रचार करें

ब्राह्मण चेहरे पर कांग्रेस का दांव

पहले ही माना जा रहा था कि कांग्रेस किसी ब्राह्मण चेहरे पर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में दांव खेल सकती है. यूपी चुनाव में कांग्रेस के मुख्य रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने भी पार्टी को सलाह दी थी कि किसी ब्राह्मण उम्मीदवार को आगे करना चाहिए.

1984 में शीला दीक्षित उत्तर प्रदेश के कन्नौज से सांसद रह चुकी हैं. इसके अलावा 1986 से 1989 तक वो केंद्रीय मंत्री की जिम्मेदारी निभा चुकी हैं. शीला दीक्षित दिल्ली की दूसरी महिला मुख्यमंत्री रही हैं. हालांकि तीन बार सीएम रहने के बाद 2013 के विधानसभा चुनाव के दौरान शीला दीक्षित की करारी हार हुई थी.

पढ़ें: यूपी चुनाव में शीला दीक्षित पर दांव लगा सकती है कांग्रेस

इससे पहले उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद के लिए भी चर्चा थी कि किसी ब्राह्मण या दलित को आगे किया जा सकता है. हालांकि मंगलवार को पार्टी ने निर्मल खत्री की जगह राज बब्बर की नियुक्ति करके इन कयासों पर विराम लगा दिया. यूपीसीसी अध्यक्ष राज बब्बर सोनार या स्वर्णकार (ओबीसी) समुदाय से आते हैं.

माना जा रहा है कि यूपी में जातीय गणित को देखते हुए कांग्रेस ने राज बब्बर के नाम को हरी झंडी दी है. इसके अलावा राज बब्बर लंबे अरसे से उत्तर प्रदेश की सियासत में सक्रिय हैं. हालांकि पिछले विधानसभा चुनाव में बेनी प्रसाद वर्मा के रूप में कांग्रेस का ओबीसी कार्ड फेल हो गया था. पार्टी को 403 में से केवल 29 सीटों पर ही जीत हासिल हुई थी.  

पढ़ें: राज बब्बर बने यूपी कांग्रेस कमेटी के नए अध्यक्ष

First published: 14 July 2016, 16:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी