Home » इंडिया » shivsena faver on eknath khadse in samna
 

एकनाथ खड़से के समर्थन में खुलकर उतरी शिवसेना

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 July 2016, 11:39 IST
(कैच)

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से कथित संबंधों और भ्रष्टाचार के आरोपों में मंत्री पद गंवा चुके महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री और बीजेपी के पिछड़े नेता एकनाथ खडसे के समर्थन में शिवसेना अब खुलकर उतर आई है.

शिवसेना ने अपने मुख पत्र 'सामना' के जरिए सरकार में सहयोगी बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है. 'सामना' में लिखा गया कि अगर महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री शिवसेना का होता, तो आज खड़से का यह हाल नहीं होता.

वहीं बीते दिनों खड़से ने यह कहकर विवाद पैदा कर दिया था कि यदि उन्होंने मुंह खोला तो पूरा देश हिल जाएगा. उन्होंने अपने चुनाव क्षेत्र में अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए यह बात कही.

उन्होंने दावा किया था, "भले ही मैंने अपने खिलाफ आरोपों के चलते इस्तीफा दे दिया है, लेकिन अगर मैंने अपना मुंह खोला, तो पूरा देश हिल जाएगा."

खड़से ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस को निशाने पर लेते हुए कहा कि उन्होंने पिछले विधानसभा चुनाव से पहले शिवसेना से नाता तोडने का जो कदम उठाया है, उसके चलते ही बीजेपी आज गठबंधन का नेतृत्व कर रही है.

खड़ने ने कहा, "यदि बीजेपी और शिवसेना का गठबंधन नहीं टूटा होता, तो महाराष्ट्र में शिवसेना का मुख्यमंत्री होता. मैंने गठबंधन को तोड़ने में अहम भूमिका निभाई. यही वजह है कि आज देवेंद्र फड़नवीस मुख्यमंत्री हैं."

शिवसेना ने 'सामना' के संपादकीय में लिखा है कि जिस एकनाथ खड़से को मंत्री पद से जाना पड़ा, उन्होंने सीना ठोककर कहा है कि अपने ही दल के गद्दारों के कारण मुझे सत्ता से बाहर होना पड़ा है.

शिवसेना ने कहा कि उन्होंने ऐसा कहकर अपना मन ही हल्का किया है. शिवसेना के मुखपत्र में आगे लिखा गया है कि खड़से ने भले ही कई ईमानदार शिवसैनिकों पर वार किया, लेकिन इसके बावजूद पार्टी का उनसे बैर नहीं है.

इसके साथ ही 'सामना' में लिखे संपादकीय में खडसे और दाऊद से बीच कथित संबंध को भी खारिज किया गया है. इसमें लिखा गया है कि खडसे पर कई आरोप लगे हैं, लेकिन उन पर दाऊद से संबंध वाला आरोप पूरी तरह से गलत है.

First published: 1 July 2016, 11:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी