Home » इंडिया » sohan death due to electric current
 

वो मौत से हार गया, लेकिन भाई ने नहीं मानी हार

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST
(एजेंसी)

राजास्थान के भरतपुर जिले के मईलखनपुर गांव में लोगों की आंखों में उस वक्त आंसू आ गए, जब एक मृतक को बचाने के लिए उसके भाई ने वह सारे प्रयास कर डाले, जो चिकित्सा विज्ञान में किसी मृत व्यक्ति के भीतर जान फूंकने के लिए किया जाता है. लेकिन वह अपने मृत भाई को मौत की दहलीज से वापस नहीं ला सका.

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि 20 साल के सोहन सिंह नाम के एक छात्र की करंट लगने से मौत हो गई. सोहन धौलपुर से नर्सिंग की पढ़ाई कर रहा था और कॉलेज की छुट्टियों में अपने घर आया हुआ था.

भाई की धड़कनों को वापस लाने का प्रयास

करंट लगने से मौत

खबरों के मुताबिक शुक्रवार की सुबह सोहन जैसे ही खेत में पानी देने पहुंचा, तो वहां पहले से टूटे 11 केवी हाई वोल्टेज बिजली के तार की चपेट में आ गया. इसके बाद परिवार वाले उसे गंभीर हालत में लेकर आरबीएम अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. लेकिन इसके बाद भी सोहन के भाई को डॉक्टरों की बात का विश्वास नहीं हुआ.

नर्सिंग छात्र सोहन छुट्टियों में अपने घर भरतपुर आया था

दर्दनाक मंजर

सोहन का शव मोर्चरी में भेजे जाने के बाद भी उसका भाई उसके शव को लगातार हिलाकर उठाने की कोशिश करता रहा. उसे लग रहा था कि सोहन अभी उठेगा और उसे अपने गले लगा लेगा.

वह बार-बार मरे भाई के दिल की धड़कनों को सुनने की कोशिश कर रहा था. इस उम्मीद में कि शायद वो एक बार फिर धक-धक करके धड़कने लगे. लेकिन उसके हाथ मायूसी ही लगी. सोहन अपने भाई को हमेशा के लिए छोड़कर, कभी न लौटने वाली दूसरी दुनिया में जा चुका था.

First published: 11 June 2016, 1:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी