Home » इंडिया » Something seriously wrong with our counter-terror security establishment
 

पठानकोट एयरबेस हमला: संसदीय समिति ने सुरक्षा पर उठाए गंभीर सवाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST

पठानकोट एयरबेस पर हुए आतंकी हमले को लेकर संसद की स्थायी समिति की रिपोर्ट आ गई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में आतंकरोधी गतिविधि में लगे सुरक्षा तंत्र में गंभीर खामी हैं.

समिति के प्रमुख प्रदीप भट्टाचार्य ने कहा कि पठानकोट में सुरक्षा-व्यवस्था खराब थी. समिति के अनुसार इस मामले में जांच एजेंसियों को एसपी सलविंदर सिंह से ठीक से सवाल-जवाब करना चाहिए था.

भट्टाचार्य ने कहा कि समिति सरकार से अपील करती है कि रिपोर्ट को गंभीरता से लिया और जरूरी कदम उठाए जाएं. उन्होंने कहा कि समिति ने पठानकोट दौरे के दौरान देखा कि एयरबेस की सुरक्षा चुस्त-दुरुस्त नही है.

आतंकी कैसे पहुंचे एयरबेस ?


उन्होंने कहा कि सुरक्षा एजेंसियां आतंकी हमलों से निपटने के लिए तैयार नहीं थीं. समिति को यह समझ नहीं आया कि आतंकी पठानकोट एयरबेस तक कैसे पहुंच सके.

पढ़ें:पाकिस्तान: जेआईटी ने पठानकोट हमले को भारत का नाटक कहा

उन्होंने आगे बताया, "हमने पठानकोट एयरबेस के अधिकारियों से लंबी बातचीत की. उन्हें अपने एयरबेस पर हमले की जानकारी नहीं थी. उन्हें तड़के सुबह हमले की जानकारी मिली, वह भी पंजाब से नहीं दिल्ली एयरफोर्स से."

पाकिस्तानी टीम का दौरा क्यों ?


भट्टाचार्य ने आगे कहा, "ऐसा कैसे हुआ? दिल्ली एयरफोर्स को किसने जानकारी दी? ये ऐसी चीजें हैं, जिनका जवाब तलाशा जाना चाहिए."

समिति ने पठानकोट में पाकिस्तानी टीम के दौरे पर भी सवाल उठाया है. समिति का कहना है कि सरकार को एयरबेस पर पाकिस्तानी अफसरों को आने की इजाजत नहीं देनी चाहिए थी.

गौरतलब है कि दो जनवरी को पंजाब के पठानकोट में एयरबेस पर 6 आतंकी घुसने में कामयाब हो गए थे. तीन दिन तक चली मुठभेड़ में सेना के सात जवान शहीद हुए थे.

पढ़ें:पठानकोट में पाकिस्तानी जांच टीम

First published: 3 May 2016, 4:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी