Home » इंडिया » Son of Karnataka CM resigns after allegation of father's favour in hospital contract
 

कर्नाटक: ठेका देने के विवाद में सिद्धारमैया के बेटे ने छोड़ी कंपनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 April 2016, 13:06 IST

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के बेटे डॉक्टर यतींद्र ने उस कंपनी से इस्तीफा दे दिया है जिसको विक्टोरिया अस्पताल की जांच लैब बनाने का ठेका मिला था. आरोप लग रहे थे कि मुख्यमंत्री ने ठेका दिलाने में अपने बेटे की मदद की.

पेशे से डॉक्टर यतींद्र सिद्धारमैया पैथोलॉजिस्ट हैं.यतींद्र मैट्रिक्स इमेजिंग सॉल्यूशंस के डायरेक्टर के पद पर थे. कंपनी को बेंगलुरु के सरकारी अस्पताल में जांच लैब बनाने का ठेका मिला था.

विपक्ष ने सीएम के बेटे की कंपनी को ठेका मिलने पर निशाना साधा था. हालांकि प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (पीएमएसएसवाई) के विशेष अधिकारी पी गिरीश के मुताबिक सब कुछ नियमों के मुताबिक हुआ था.

पढ़ें:सिद्धारमैया का संकट: बेटे को ठेका देकर फंसे !

सबसे कम बोली में मिला था ठेका

गिरीश के मुताबिक कई कंपनियों ने कॉन्ट्रैक्ट के लिए बोली लगाई थी. लेकिन आखिरी राउंड में दो कंपनियां ही पहुंचीं. हालांकि सबसे कम बोली लगाकर मैट्रिक्स ठेका हासिल करने में सफल रही.

कंपनी ने दूसरे सरकारी अस्पतालों के मुकाबले 20 फीसदी कम रकम पर बोली लगाई थी. पांच साल का ये कॉन्ट्रैक्ट अक्टूबर में दिया गया था. 10 करोड़ रुपये का निवेश करने के बाद इसी महीने कंपनी काम शुरू करने वाली थी.

सीएम के बेटे की कंपनी को ठेका मिलने पर सवाल उठ रहे थे. गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देशों में साफ कहा गया है, " पदभार संभालने के बाद कोई भी मंत्री (मुख्यमंत्री भी शामिल) सरकारी ठेकों में अपने परिवार के सदस्यों को शामिल होनेे से रोकेगा. "

पढ़ें:कर्नाटक के सीएम के गले पड़ी 70 लाख की कलाई घड़ी


First published: 16 April 2016, 13:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी