Home » इंडिया » Sonbhadra: Availability of 3000 ton of gold in Son Pahadi & Hardi field is false news
 

सोनभद्र में 3000 टन सोना मिलने की खबर निकली झूठी, GSI ने कहा- सिर्फ 160 किलो गोल्ड

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 February 2020, 13:13 IST

उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) के सोनभद्र(Sonbhadra) में तीन हजार टन सोना(Gold) मिलने की खबर मीडिया के गलियारों में तेजी से फैली थी. इतनी ज्यादा मात्रा में सोना मिलने की खबर के बाद देश के लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई थी. लेकिन अब इस खबर को जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (जीएसआई) ने खारिज कर दिया है.

जीएसआई ने कहा कि सोनभद्र में तीन हजार टन सोना है ही नहीं, वहां मात्र 160 किलो सोना मिलने की संभावना है, वह भी औसत दर्जे का. जीएसआई ने यह भी कहा कि उन्हें नहीं पता कि यह झूठ कहां से फैलाया गया. इस बात के सामने आते ही उन तमाम खबरों पर ब्रेक लग गया, जिसमें हफ्ते भर से सोनभद्र में बड़ी संख्या में सोना मिलने का दावा किया जाता रहा है.

मीडिया की खबरों के अनुसार, यह सारा झूठ उत्तर प्रदेश के खनन विभाग और सोनभद्र के कलेक्टर के बीच पत्र-व्यवहार के लीक होने के बाद शुरू हुआ था. उत्तर प्रदेश के भूतत्व एवं खनिक निदेशालय का एक पत्र मीडिया में मौजूद है, इसी पत्र में सोनभद्र के सोना पहाड़ी ब्लॉक में 2943.26 टन और हरदी ब्लॉक में 646.15 किलोग्राम सोना होने की संभावना जताई गई थी.

 

पत्र से ही यह खबर सामने आई थी कि सोनभद्र के दो ब्लॉक में करीब तीन हजार टन सोना होने की संभावना है. पत्र में ही जीएसआई उत्तरी क्षेत्र लखनऊ की ओर से खनिजों की नीलामी की रिपोर्ट उपलब्ध कराई गई. पत्र में ही सोना निकालने के लिए सात सदस्यीय टीम के गठन की जानकारी दी गई है.

31 जनवरी को लिखा गया यह पत्र 19 फरवरी को सोनभद्र की स्थानीय मीडिया के हाथ लग गया. इसके बाद यह खबर आग की तरह फैली कि सोनभद्र में सोना ही सोना भरा है. सोनभद्र में तीन हजार टन सोना निकलने की खबरों के बाद देश के टीवी चैनलों ने माहौल बनाना शुरू किया. टीवी चैनलों ने कहा कि भारत फिर से सोने की चिड़िया बनने वाला है.

इसके बाद उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने भी इसे भगवान राम का आशीर्वाद बताया. लेकिन जब मामला काफी तूल पकड़ने लगा तो शनिवार को जीएसआई के कोलकाता स्थित मुख्यालय ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर सफाई दी. जीएसआई ने विज्ञप्ति में कहा कि सोनभद्र में तीन हजार टन सोना मिलने की बात गलत है.

सोनभद्र: GSI के नए खुलासे से टूट सकती है भारत की उम्मीद, सिर्फ 160 किलो सोना होने का दावा

सोनभद्र की जिन पहाड़ियों पर होगी सोने की खुदाई, 400 आदिवासी परिवार हो सकते हैं बेघर

First published: 23 February 2020, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी