Home » इंडिया » Sonia Gandhi: Nothing to hide, let them take my name I am not afraid
 

अगस्ता वेस्टलैंड मामला: आरोपों पर सोनिया का पलटवार, किसी से डरती नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 April 2016, 13:02 IST

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सारे आरोपों को गलत बताया है. सोनिया ने कहा कि मोदी सरकार दो साल से सत्ता में है, लेकिन अब तक जांच आगे क्यों नहीं बढ़ी.

सोनिया ने केंद्र सरकार को इस दौरान निशाने पर लिया. सोनिया ने कहा, "हमारे पास छुपाने को कुछ भी नहीं है. उन्हें मेरा नाम लेने दें, मैं किसी से डरती नहीं हूं."

Sonia

साथ ही सोनिया गांधी ने आरोपों को लेकर केंद्र सरकार पर पलटवार किया. सोनिया ने कहा, "सारे आरोप आधारहीन हैं, ये सब उनकी छवि को धूमिल करने की मोदी सरकार ही रणनीति का हिस्सा है."

अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर डील मामले में इटली की कोर्ट का फैसला आने के बाद बीजेपी ने कांग्रेस को घेरने की रणनीति बनाई है. लोकसभा में बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर और मीनाक्षी लेखी ने इस पर चर्चा का नोटिस दिया था.

पढ़ें:अगस्‍ता वेस्‍टलैंड घोटाला: जद में पूर्व वायुसेनाध्यक्ष एसपी त्यागी और कांग्रेसी नेता

वहीं राज्यसभा में हाल ही में मनोनीत हुए सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने चर्चा के लिए नोटिस दिया. जैसे ही स्वामी ने राज्यसभा में इटली की मिलान कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए सोनिया का जिक्र किया, कांग्रेस के सांसदों ने हंगामा मचा दिया.

मिलान कोर्ट ने सुनाया था फैसला


इटली की एक अदालत ने 2010 में हुई अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी चॉपर डील के मामले में अगस्ता के मालिक जिउसेपे ओरसी और फिनमेकैनिका कंपनी को रिश्वत देने का दोषी ठहराया था.

अदालत के फैसले के मुताबिक घूस के पैसों की लेन-देन पूर्व वायुसेनाध्यक्ष एसपी त्यागी के जरिए हुई. हालांकि त्यागी ने आरोपों से इनकार किया है. त्यागी का कहना है कि अगर वो दोषी हैं, तो फिर उस वक्त की पूरी सरकार गुनहगार है.

मिलान कोर्ट ऑफ अपील्स के फैसले के मुताबिक सौदेबाजी में 125 करोड़ की रिश्वत दी गई. हालांकि भ्रष्टाचार के आरोप सामने आने के बाद यूपीए-2 सरकार ने कंपनी को ब्लैक लिस्ट करते हुए डील को रद्द कर दिया था.

पढ़ें:अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला: बिचौलिए का बयान, किसी गांधी को नहीं जानता

First published: 27 April 2016, 13:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी