Home » इंडिया » SP-BSP alliance: mayawati says why congress is similar to BJP
 

सपा-बसपा ने कांग्रेस को गठबंधन से किया बेदखल, मायावती ने कहा- BJP जैसी है कांग्रेस

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 January 2019, 14:22 IST

लोकसभा चुनावों के चलते उत्तर-प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बीच सीटों के बंटवारे का ऐलान हो चुका है. गेस्ट हाउस कांड के बाद पहली बार सपा-बसपा ने साझा प्रेस कांफ्रेस करके सीटों की घोषण की. दोनों पार्टियां 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी. लेकिन इस महागठबंधन से कांग्रेस के लिए खबर अच्छी नहीं है. बसपा सुप्रीमो मायावती ने इस कॉन्फ्रेंस के जरिये सीधे तौर पर कांग्रेस पर निशाना साधा है. मायावती ने कहा कि कांग्रेस और भाजपा में कोई अंतर नहीं है. हालांकि इस गठबंधन में ये भी साफ हो गया है कि रायबरेली और अमेठी में कांग्रेस के खिलाफ कोई उम्मीदवार नहीं उतारा जाएगा.

इस गठबंधन में कांग्रेस के शामिल न होने का कारण बताते हुए मायावती ने कहा कि, ''इसके वोट एसपी और बीएसपी को ट्रांसफर नहीं होते हैं इसलिए इसमें कांग्रेस को शामिल नहीं किया गया.''

सपा-बसपा के इस गठबंधन के सीटों का ऐलान लखनऊ में एक प्रेस कांफ्रेस में किया गया. प्रेस वार्ता में मायावती ने कहा, ''आजादी के बाद काफी लंबे समय तक कांग्रेस पार्टी ने एकछत्र राज किया है. गरीब, मजदूर, किसान और व्यापारी इनके शासन में परेशान रहे हैं. ऐसे समय में बीएसपी और एसपी सहित अन्य पार्टियों का उदय हुआ. केंद्र या राज्य में चाहे सत्ता बीजेपी के पास रहे या कांग्रेस के बात एक ही है.''

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा, ''कांग्रेस पार्टी के बारे में यह सर्वविदित है कि एसपी और बीएसपी को गठबंधन से कोई खास लाभ नहीं होने वाला है. उनका अधिकांश वोट ट्रांसफर नहीं होता है. बीजेपी या जातिवादी पार्टियों को चला जाता है. या फिर सोची समझी साजिश के तहत दूसरी ओर चला जाता है. कांग्रेस जैसी पार्टियों को हमसे पूरा लाभ मिल जाता है लेकिन हमारे जैसी ईमानदार पार्टियों को कोई लाभ नहीं मिलता है. इसका कड़वा अनुभव 1996 के विधानसभा चुनाव में हमें मिला था.''

26 साल बाद पहली बार साथ प्रेस कांफ्रेंस करेंगे माया-अखिलेश, कल होगा सीटों का ऐलान

बोफोर्स और राफेल को लेकर कांग्रेस और बीजेपी पर निशाना

वहीं बोफोर्स और राफेल जैसे मामलों के लेकर बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस और भाजपा दोनों पार्टियों पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ''देश में रक्षा सौदों की खरीद में दोनों पार्टियों की सरकारों में जबरदस्त घोटाले हुए. कांग्रेस को बोफोर्स मामले में केंद्र की सरकार गंवानी पड़ी. बीजेपी को राफेल घोटाले को लेकर अपनी सरकार जरूर गंवानी पड़ेगी.''

First published: 12 January 2019, 14:22 IST
 
अगली कहानी