Home » इंडिया » SP-BSP alliance will fail in front of BJP, says yogi
 

सपा-बसपा को एक साथ निपटा देगी BJP- योगी आदित्यनाथ

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 January 2019, 10:14 IST

उत्तर प्रदेश में गेस्ट हाउस कांड के बाद पहली बार समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने एक साथ हाथ मिलाया है. सपा प्रमुख अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती ने पहली बार साझा कॉन्फ्रेंस करके मोदी सरकार के खिलाफ चुनावों के लिए एकजुटता दिखाई. लखनऊ में हुई इस साझा कॉन्फ्रेस में सपा बसपा गढबंधन की सीटों का ऐलान किया गया. वहीं इस गठबंधन को लेकर अलग अलग प्रतिक्रियाएं आना शुरू हो गयी हैं.

बीजेपी ने इस गठबंधन को स्वार्थ के लिए किया गया गठबंधन बताया है. उतार प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समजावादी पार्टी (सपा) और बसपा का गठबंधन स्वार्थ के लिए हुआ है. इसके लिए सपा बड़ी उतावली भी थी. दोनों पार्टियों के एकसाथ आने उन्हें निपटाना भाजपा के लिए और भी आसान होगा.

बसपा यदि गठबंधन में 10 सीटें भी देती तो भी सपा लेने को तैयार थी. रविवार को लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में एक चैनल के कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे थे. उन्होंने कहा कि जनता समझ रही है कि इस गठबंधन का क्या उद्देश्य है और भविष्य है? गठबंधन यह नहीं बता रहा है कि प्रधानमंत्री पद का चेहरा मायावती होंगी या मुलायम सिंह यादव? योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भाजपा इस बार भी प्रचंड बहुमत से चुनाव में जीतेगी.

मोदी को चुनौती देने वाले केजरीवाल, इस बार नहीं लड़ेंगे चुनाव, AAP नेता ने बताई ये वजह

इसी के साथ योगी सर्कार में आयोजित किये गए भव्य कुंभ मेले के बारे में बताते हुए योगी ने कहा की यह कुम्भ मानवता का सबसे बड़ा आध्यात्मिक और सांस्कृतिक समागम है. यही वजह है कि यूनेस्को ने इसे मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर के रूप में मान्यता दी हुई है. योगी आदित्यनाथ ने अपनी सरकार में आयोजित हो रहे इस भव्य कुंभ आयोजन को लेकर कहा कि ये कुंभ देश के साथ विदेशो में भी मशहूर हो रहा है. इससे राज्य में पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा.

(इनपुट एजेंसी से भी)

सपा-बसपा ने कांग्रेस को गठबंधन से किया बेदखल, मायावती ने कहा- BJP जैसी है कांग्रेस

First published: 14 January 2019, 10:06 IST
 
अगली कहानी