Home » इंडिया » Special NIA judge Ravindra Reddy who delivered resigns After Mecca Masjid Verdict
 

मक्का मस्जिद ब्लास्ट: फैसला सुनाने वाले जज का इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवाला

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 April 2018, 20:23 IST


हैदराबाद की मक्का मस्जिद ब्लास्ट मामले में  फैसला सुनाने वाले एनआईए की स्पेशल कोर्ट के जज जज रविंदर रेड्डी ने अपना इस्तीफा दे दिया है. जज रविंदर रेड्डी ने फैसला सुनाने के कुछ घंटों के बाद ही अपना इस्तीफा दे दिया है. जज रविंदर रेड्डी ने इस्तीफे के पीछे व्यक्तिगत कारण बताएं है. उन्होंने अपना इस्तीफा आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस को अपना इस्तीफा भेजा दिया है. 

बता दें कि साल 2007 में हैदराबाद की मक्का मस्जिद ब्लास्ट मामले में एनआईए की स्पेशल कोर्ट ने सोमवार को फैसला सुनाते हुए स्वामी असीमानंद समेत सभी 5 आरोपियों को बरी दिया था.कोर्ट ने अपने फैसले में आरोपियों के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं होने की बात कही है. वहीं जांच एजेंसी आरोपों को साबित करने में विफल रही है.



गौरतलब है कि 18 मई 2007 को हुए इस ब्लास्ट में 9 व्यक्तियों की मौत हो गई थी. वहीं 58 लोग घायल हुए थे. इसके अलावा इस ब्लास्ट को लेकर बाद में हुए प्रदर्शन में भी कुछ लोगों की मौत हो गई थी. मामले में असीमानंद सहित देवेन्द्र गुप्ता, लोकेश शर्मा उर्फ अजय तिवारी, लक्ष्मण दास महाराज, मोहनलाल दरत्वर और राजेंद्र चौधरी को आरोपी बनाया था, जबकि दो आरोपी रामचंद्र कालसांगरा और संदीप डांगे अभी भी फरार हैं.

एक प्रमुख अभियुक्त और आरएसएस के कार्यवाहक, सुनील जोशी को जांच के दौरान गोली मार दी गई थी. साल 2011 में इसकी जांच एनआईए को सौंपी गई थी. एनआईए ने अप्रैल 2011 में जांच शुरू की थी. जांच के दौरान कुल 226 गवाहों से पूछताछ की गई . इसमें से 60 चश्मदीद गवाहों के बयान दर्ज किए गए थे, जिनमें से 54 गवाह मुकर चुके हैं. जबकि 411 दस्तावेजों को देखा गया.

First published: 16 April 2018, 19:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी