Home » इंडिया » After road accident Kashmiri youths rescue army men stuck in vehicle, video viral
 

जीत गई कश्मीरियत जब पत्थर नहीं जवानों की मदद के लिए उठे हाथ

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 October 2016, 9:18 IST
(यू ट्यूब)

हाल के दिनों में कश्मीर घाटी बुरहान वानी की मौत के बाद सुरक्षाबलों के साथ प्रदर्शनकारियों की झड़प की रोजाना गवाह बन रही है. 90 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. तनाव के इस दौर में एक ऐसी तस्वीर भी सामने आई है, जिससे काफी सुकून मिलता है.

जी हां ये तस्वीर कश्मीर की जिंदादिली और उसकी इंसानियत के जज्बे की जीत बनकर आई है. 8 जुलाई से कश्मीर घाटी तनाव और संघर्ष के दौर से गुजर रही है. लेकिन रविवार को एक हादसे के बाद सामने आई तस्वीरों ने हर किसी को बेमिसाल संदेश दिया है. 

दरअसल श्रीनगर हाईवे पर रविवार को सेना की गाड़ी एक पेड़ से टकराकर हादसे का शिकार हो गई थी. इस दुर्घटना में सेना के दो जवान जख्मी हो गए. हादसे के बाद स्थानीय कश्मीरी युवकों ने उनकी मदद के लिए जो रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया, उसका वीडियो वायरल हो गया है. यही नहीं सेना ने भी बाकायदा ट्वीट करके कश्मीरी लड़कों को शुक्रिया कहा है.

कश्मीर घाटी में सुरक्षाबलों और युवकों के बीच पथराव की पृष्ठभूमि के बीच इस वीडियो की खासी चर्चा हो रही है. श्रीनगर हाईवे पर लासजन में सेना की एक गाड़ी पेड़ से टकराने के बाद गाड़ी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई और दोनों जवान गाड़ी में फंस गए.

हादसे के बाद जो कुछ हुआ उससे कश्मीरियत की भावना जीत गई. सेना के दोनों जवानों को निकालने के लिए श्रीनगर के स्थानीय लड़कों ने एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया. पेड़ से टकराकर गाड़ी इस तरह फंस गई थी कि जवानों को निकालना बहुत मुश्किल था.

लड़कों ने ट्रक के बराबर में एक दूसरा ट्रक लाकर खड़ा किया. इसके बाद ड्राइवर केबिन तक पहुंचकर लड़कों ने जवानों को सकुशल बाहर निकाला. इस घटना को एक राहगीर ने शूट कर लिया था, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.

सेना ने कश्मीरी लड़कों के इस जज्बे को सलाम किया है. भारतीय सेना के नार्दन कमांड ने तो बाकायदा टवीट करते हुए लिखा, "श्रीनगर के पंथा चौक पर हादसे के बाद गाड़ी में फंसे जवानों की मदद करने के लिए सेना स्थानीय युवकों का शुक्रिया अदा करती है."

इस बार पत्थर नहीं मदद के हाथ

कश्मीरी युवकों के इस रेस्क्यू ऑपरेशन की चर्चा की एक वजह बुरहान वानी भी है. दरअसल कश्मीर का ही एक लड़का बुरहान वानी सेना के खिलाफ हथियार उठाकर आतंकी बना. 7 जुलाई को एनकाउंटर में उसकी मौत के बाद से घाटी में हालात तनावपूर्ण हैं.

आतंकी बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद से सेना और पुलिस पर युवाओं के पत्थर बरसाने के हजारों मामले सामने आ चुके हैं. ऐसे में घाटी से ही आई इस तस्वीर से एक नई उम्मीद जागी है.

First published: 10 October 2016, 9:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी