Home » इंडिया » Srinagar by election-farooq abdullah ahead of pdp candidate.
 

फ़ारूक़ अब्दुल्ला ने जीता श्रीनगर लोकसभा उपचुनाव, PDP को लगा झटका

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 April 2017, 16:14 IST

जम्‍मू-कश्‍मीर के पूर्व मुख्यमंत्री औऱ नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने श्रीनगर लोकसभा उपचुनाव जीत लिया है. फारूक ने राज्य में सत्ताधारी पीडीपी के नज़ीर अहमद को शिकस्त दी है. 2014 के लोकसभा चुनाव में अब्दुल्ला यहां से पहली बार चुनाव हारे थे. उन्हें  पीडीपी के तारिक हमीद कर्रा ने चुनाव हराया था.

राज्य में उसके बाद हुए विधानसभा चुनाव में पीडीपी और बीजेपी की गठबंधन सरकार बनने के बाद कर्रा नाराज़ चल रहे थे और पिछले साल जुलाई में आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद हुए विरोध प्रदर्शनों के बाद पीडीपी नेता तारिक हमीद कर्रा ने लोकसभा सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था, जिसके कारण यह सीट रिक्त हो गई थी. 

अपनी जीत पर प्रतिक्रिया देते हुए नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने कहा, "जनता को धन्यवाद जिन्होंने मेरा समर्थन किया. यह अब तक का सबसे खूनी चुनाव था. नतीजे बताते हैं कि लोग नेशनल कॉन्फ्रेंस के समर्थन में हैं."

 

केवल 7 फीसदी हुआ था मतदान

इस सीट पर चुनाव आयोग ने नौ अप्रैल को मतदान करवाया था. चुनाव में हुई हिंसा के कारण आठ लोगों की मौत इस उपचुनाव में हुई थी. इसके अलावा यहां काफी कम मतदान हुआ था. उपचुनाव में मात्र 7.15% मतदान हुआ था.

इसके अलावा पथराव की घटना में कई सुरक्षाकर्मी भी जख्मी हो गए थे, जिसके बाद कई जगहों पर बुधवार को चुनाव आयोग ने पुर्नमतदान करवाया था. बडगाम जिले के चादूरा, चरार-ए-शरीफ, खानसाहिब और बीरवाह तहसील के 38 मतदान केंद्रों पर दोबारा मतदान हुआ. इन जगहों से हिंसा की कोई बड़ी ख़बर नहीं आयी पर मतदान का प्रतिशत बहुत कम रहा. बुधवार को पुनर्मतदान में सिर्फ 2.2% मतदान हुआ.

राज्य की मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती के लिए भी उनकी लोकप्रियता के लिहाज से यह चुनाव अहम माना जा रहा है. जम्मू- कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और उनके पिता फारूक अब्दुल्ला ने महबूबा मुफ्ती की अगुआई वाली सरकार की सुचारु ढंग से चुनाव कराने में पूरी तरह विफल रहने को लेकर आलोचना की थी.

First published: 15 April 2017, 12:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी