Home » इंडिया » SSC Scam 2018: staff selection commission ready for cbi enquiry of paper leak case
 

SSC Scam 2018: सीबीआई जांच के लिए तैयार आयोग, फिर भी जारी रहेगा छात्रों का आंदोलन

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 March 2018, 22:12 IST

कर्मचारी चयन आयोग यानि एसएससी केंद्रीय गृह मंत्रालय के हस्तक्षेप के बाद 21 फरवरी को हुई परीक्षा में कथित पेपर लीक की जांच सीबीआई से करवाने पर राजी हो गया है. हालांकि परीक्षार्थी 17 से 22 फरवरी तक हुए कम्बाइंड ग्रेजुएट लेवल टीयर-2 की सभी परीक्षाओं की सीबीआई जांच की मांग पर अड़े हुए हैं. उन्होंने सभी मांगें नहीं माने जाने तक आंदोलन जारी रखने का फैसला किया है.

ये भी पढ़ें- 4 मार्च, 2008: आज के दिन ही भारत ने रौंदा था ऑस्ट्रेलियाई गुरूर

बता दें कि पिछले 6 दिन से सैकड़ों छात्र सीजीओ कॉप्लेक्स स्थित एसएससी ऑफिस के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं. इसी मामले को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को एसएससी अध्यक्ष असीम खुराना को तलब किया. दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने भी छात्रों के साथ गृह मंत्री से मुलाकात की. परीक्षार्थियों गृह मंत्री को अपनी मांगों से अवगत कराया

वहीं गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने छात्रों के साथ नाइंसाफी ना होने की बात कही है. एसएससी अध्यक्ष खुराना ने एक बयान में कहा कि आयोग 21 फरवरी को हुई परीक्षा में कथित रूप से पेपर लीक के आरोपों की जांच के लिए सीबीआई जांच की सिफारिश करने को तैयार है.

क्या हैं छात्रों की मांगें
प्रदर्शन कर रहे छात्रों मांग कर रहे हैं कि 17 से 22 फरवरी तक हुए कम्बाइंड ग्रेजुएट लेवल टीयर-2 की सभी परीक्षाओं की सीबीआई जांच कराई जाए. साथ ही परीक्षा करवाने वाले वेंडर्स को तत्काल बदला जाए.

छात्र एसएससी परीक्षाओं के संदर्भ में पांच छात्रों की कमेटी बनाकर आयोग की मान्यता चाहते हैं. ताकि परीक्षा में नए सुधारों के बारे में कमेटी आयोग को सुझाव दे सके. छात्रों का कहना है कि उनकी शिकायतों का तुरंत जवाब दिया जाए और सिस्टम को पारदर्शी बनाया जाए.

क्या है मामला
प्रदर्शन कर रहे छात्रों का आरोप है कि 17 से 22 फरवरी तक सीजीएल टीयर-2 का पेपर हुआ. 21 फरवरी को परीक्षा के बाद छात्र केंद्रों से बाहर निकले तो उन्होंने सोशल मीडिया पर वही प्रश्न पत्र शेयर होते देखे, जो वे हल करके आए थे. छात्रों ने सोशल मीडिया और व्हाट्सएप पर शेयर हुए पेपर की कॉपी के सबूत जुटाकर एसएससी अधिकारियों से शिकायत की थी. इसी को लेकर छात्र लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं.

First published: 4 March 2018, 22:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी