Home » इंडिया » SSC Scame 2018: supreme court ready to hear case for cbi inquiry
 

SSC पेपर लीक मामले में सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई, याचिका में CBI जांच की मांग

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 March 2018, 14:07 IST

एसएससी पेपर लीक मामले में सीबीआई जांच की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट तैयार हो गया है. इस मामले में 12 मार्च को सुनवाई होगी. ये याचिका वकील एमएल शर्मा ने दाखिल की है. याचिका में पूरे घोटाले और पेपर लीक की सीबीआई जांच कोर्ट की निगरानी में कराने की मांग की गई है. चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा कि इस मामले की सुनवाई अगले सोमवार को करेंगे.

वहीं वकील एमएल शर्मा ने बताया कि ये गंभीर मामला है और दो लाख से ज्यादा छात्रों की बात है. सीबीआई जांच को लेकर छात्र धरने पर बैठे हैं. सरकार इस मामले में कुछ नहीं कर रही है. ऐसे में कोर्ट अपनी निगरानी में सीबीआई जांच कराए. इससे पहले कर्मचारी चयन आयोग ने एसएससी पेपर लीक मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश की थी.

ये भी पढ़ें- SSC Scam 2018: राजनाथ सिंह के CBI जांच के आश्वासन के बावजूद छात्रों ने नहीं रोका प्रदर्शन

बता दें कि प्रदर्शन कर रहे छात्रों से बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी और दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने मुलाकात की थी. उन्होंने कहा कि सरकार ने CBI जांच की बात मान ली है. बावजूद इसके छात्र अपनी मांगों क लेकर अड़े रहे. प्रदर्शन कर रहे छात्रों का कहना था कि जब तक सरकार लिखित में नहीं देगी तब तक आंदोलन ख़त्म नहीं करेंगे.

उधर एसएससी के अध्यक्ष असीम खुराना ने एक बयान में कहा कि कथित पेपर लीक के विरोध में प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों का एक प्रतिनिधिमंडल उनसे मिला और एक ज्ञापन सौंपा. उनके साथ दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी भी थे. उन्होंने 17 से लेकर 22 फरवरी तक आयोजित हुई परीक्षा में प्रश्नपत्रों के लीक होने के मामले में सीबीआई जांच की मांग की है. बयान में कहा गया है कि आयोग ने 21 फरवरी को हुई परीक्षा के प्रश्नपत्र-1 के प्रश्न लीक होने से जुड़े आरोपों की सीबीआई जांच की सिफारिश कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग से करने पर सहमति जताई है.
क्या था पूरा मामला

एसएससी द्वारा आयोजित सीजीएल 2017 के टियर टू की परीक्षा के प्रश्न पत्र लीक हो गए थे. जिसके बाद से परीक्षार्थी सीबीआई जांच की मांग कर रहे है. इसी को लेकर सैकड़ों छात्र एसएससी कार्यालय के बाहर 27 फरवरी से प्रदर्शन कर रहे हैं. छात्रों का कहना है कि जब तक उनकी मांगें नहीं मान ली जाती उनका प्रदर्शन जारी रहेगा.

First published: 5 March 2018, 14:07 IST
 
अगली कहानी