Home » इंडिया » Su-30 aircraft on a routine training mission goes missing, lost radar 60 Km North of Tezpur.
 

IAF का सुखोई-30 भारत-चीन बॉर्डर से लापता

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 May 2017, 16:53 IST

इंडियन एयरफोर्स का सुखोई-30 मंगलवार को इंडिया-चीन के बॉर्डर पर लापता हो गया है. ये विमान पायलट समेत भारत-पाक सीमा पर लापता हुआ है. तेजपुर से 60 किलोमीटर उत्तर में जब ये विमान था तभी राडार से इसका संपर्क टूट गया. विमान का पता लगाने के लिए तलाशी अभियान शुरू किया गया है.

कंट्रोल रूम के मुताबिक, इस एयरक्राफ्ट के पायलट का कंट्रोल रूम से आखिरी संपर्क सुबह 11 बजकर 30 मिनट पर हुआ था. उस वक्त एयरक्राफ्ट की लोकेशन असम के नॉर्थ तेजपुर की थी. 

 

 

दो-इंजन वाले सुखोई-30 एयरक्राफ्ट का निर्माण रूसी की कंपनी सुखोई एविएशन कॉरपोरेशन ने किया है. भारत की रक्षा जरूरतों के लिहाज से सुखोई विमान काफी अहम है. यह सभी मौसमों में उड़ान भर सकता है. हवा से हवा में, हवा से सतह पर मार करने में सक्षम है.

एक रिपोर्ट के अनुसार पिछले सात साल में 7 सुखोई विमान हादसे का शिकार हो चुके हैं. करीब 358 करोड़ रुपये की लागत वाला यह विमान 4.5 जेनरेशन का विमान है और इस समय दुनिया के श्रेष्ठ लड़ाकू विमानों की श्रेणी में शामिल है.
First published: 23 May 2017, 16:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी