Home » इंडिया » Subramanian Swamy again targets Chief Economioc Adviser Arvind Subramanian
 

अरविंद सुब्रमण्यम से स्वामी की जंग जारी, ट्विटर पर फिर साधा निशाना

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 June 2016, 11:47 IST
(एएनआई)

वित्त मंत्रालय के आर्थ‍िक सलाहकार अरविंद सुब्रमयण्म की बर्खास्तगी की सुब्रमण्यम स्वामी की मांग से जहां बीजेपी ने किनारा कर लिया है, वहीं स्वामी ने अरविंद पर हमला तेज कर दिया है. गुरुवार को ट्विटर के जरिए एक बार फिर स्वामी ने अरविंद सुब्रमण्यम पर निशाना साधा.

स्वामी ने यह भी कहा है कि एक राष्ट्रवादी होने के नाते वे इस बात से आहत हैं कि भारत सरकार का कोई व्यक्ति अमेरिकी कांग्रेस से अनुरोध करता है कि वह भारत को ठीक करे.

स्वामी के बयान पर सरकार की मुश्किल

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार सुब्रमण्यम स्वामी के बयानों पर कोई लगाम नहीं लगा पा रही है. पहले उन्होंने आरबीआई के गवर्नर रघुराम राजन को लगातार निशाने पर लिया और अब मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम उनके निशाने पर हैं.

पढ़ें: सुब्रमण्यम बनाम सुब्रमण्यम: अगले शिकार की तलाश में स्वामी

स्वामी के बयान के बाद सरकार और पार्टी दोनों को ही अरविंद के बचाव में सामने आना पड़ा. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सफाई देते हुए कहा कि सरकार स्वामी के विचार से सहमत नहीं है और उन्होंने जो कहा, वह उनके अपने निजी विचार थे.

इस बीच स्वामी ने गुरुवार सुबह फिर ट्वीट करते हुए कहा, "केंद्र सरकार ये कहती है कि वह अरविंद सुब्रमण्यम के बारे में सब जानते हैं, लेकिन फिर भी वह उनके लिए काफी महत्व रखते हैं तो फिर मैं उनके निलंबन की मांग छोड़ दूंगा."

स्वामी ने साथ ही ट्वीट में लिखा कि सच्चाई को साबित करने के लिए वे कुछ इंतजार करेंगे.

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, "मुझे वाकई बहुत हैरानी है कि कैसे एक देशभक्त विदेश में जाकर अपने ही देश के कान मरोड़ने की सलाह दे सकता है. अगर ऐसे शख्स को माफ किया जा सकता है, तो मैं अपनी मांग वापस लेता हूं."

केंद्र सरकार ने अरविंद पर जताया भरोसा

उधर बीजेपी ने भी स्वामी के बयान पर सफाई देते समय काफी सावधानी बरती. पार्टी ने कहा कि स्वामी की ओर से की गई अरविंद की आलोचना से वह सहमत नहीं है. इसके साथ ही बीजेपी ने यह भी साफ किया कि स्वामी के विचार पूरी तरह से उनके निजी हैं.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि सरकार को अरविंद पर पूरी तरह से भरोसा है और सरकार के लिए 'उनकी सलाह काफी महत्व रखती है. हालांकि जेटली ने इस दौरान स्वामी का बिल्कुल भी नाम नहीं लिया.

वेंकैया नायडू ने भी दी सफाई

स्वामी द्वारा अरविंद को पद से हटाए जाने की मांग के बाद बीजेपी के सचिव श्रीकांत शर्मा ने दिल्ली में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "पार्टी स्वामी के बयान से सहमति नहीं रखती. यह पूरी तरह से उनके निजी विचार हैं."

केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि स्वामी ने जो कहा वह उनके निजी विचार हैं और पार्टी का उनके बयान से कोई लेना-देना नहीं है.

नायडू ने कहा, "बीजेपी ने कुछ नहीं कहा. सरकार ने कुछ नहीं कहा. सवाल यह है कि लोकतंत्र में आप सभी का मुंह नहीं बंद करा सकते हैं. अगर पार्टी कुछ कहती है, तो मैं उस पर प्रतिक्रिया दे सकता हूं. अगर सरकार कुछ कहती है, तो मैं उस पर प्रतिक्रिया दे सकता हूं.

First published: 23 June 2016, 11:47 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी