Home » इंडिया » subramanian swamy questioning on modi acche din
 

अब स्वामी ने जीडीपी फॉर्मूले से 'अच्छे दिनों' पर उठाए सवाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST
(फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपरोक्ष आलोचना का शिकार हो चुके बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी अपनी बयानबाजी से पार्टी के लिए परेशानी बढ़ाते जा रहे हैं.

स्वामी ने अब सीधे-सीधे पीएम मोदी के 'अच्छे दिनों' पर हमला कर दिया है. उन्होंने शुक्रवार सुबह ट्विटर पर 'जीडीपी' का सवाल दागकर आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक) और सरकार पर एक साथ निशाना साधा है.

स्वामी ने ट्विटर पर लिखा, "अगर मैं इंडेक्स नंबर के सैमुअल्सन-स्वामी थ्योरी को भारतीय जीडीपी की गणना या आरबीआई इंटरेस्ट रेट पर लागू करूं, तो मीडिया चिल्लाने लगेगी कि यह पार्टी विरोधी गतिविधि है."

पॉल सैमुअलसन प्रसिद्ध अमेरिकी अर्थशास्त्री थे और स्वामी कई मौकों पर उन्हें अपना गुरु तक बता चुके हैं.

सुब्रमण्यम स्वामी ने आज जिस तरह से ट्वीट कर देश की जीडीपी के आंकड़ों पर सवाल उठाए हैं, उससे विपक्ष को मोदी सरकार को घेरने का रास्ता मिल गया है. क्योंकि मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर सबसे ज्यादा चर्चा बेहतर जीडीपी की ही थी.

मोदी सरकार ने बीते महीने गुजरे वित्त वर्ष की चौथी तिमाही के आंकड़े जारी करते हुए इस बात का दावा किया था कि अर्थव्यवस्था ने तेज रफ्तार पकड़ी है. मोदी सरकार ने इस तरह भारत को दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती प्रमुख अर्थव्यवस्था बताया.

गौरतलब है कि अपने विवादित बयानों से कई बार बीजेपी की किरकिरी करा चुके सुब्रमण्यम स्वामी की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आलोचना की थी.

अंग्रेसी समाचार चैनल 'टाइम्स नाउ' को बीते दिनों दिए इंटरव्यू में पीएम ने कहा था कि अगर कोई पब्लिसिटी के लिए बयान दे रहा है तो ये गलत है.

इसके साथ ही पीएम मोदी ने यह भी कहा था कि कोई भी पार्टी से बड़ा नहीं हो सकता. वहीं पीएम की ओर से ऐसा कहा जाना स्वामी को नागवार गुजरा. उन्होंने बुधवार सुबह ट्वीट किया कि वह पब्लिसिटी के पीछे नहीं भागते, बल्कि पब्लिसिटी उनके पीछे भागती है.

First published: 1 July 2016, 12:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी