Home » इंडिया » Supreme Court directs for floor test in Karnataka Assembly at 4 pm tomorrow after hearing Congress-JD(S) plea
 

कर्नाटक में BJP को बड़ा झटका- फ्लोर टेस्ट में नहीं होगा गुप्त मतदान

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 May 2018, 12:06 IST

कर्नाटक मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका दिया है. कोर्ट ने येदियुरप्पा सरकार को कल शाम 4 बजे तक बहुमत साबित करने का आदेश दिया है. इसके अलावा कोर्ट ने कई बातें कही हैं. कोर्ट ने कहा है कि फ्लोर टेस्ट में गुप्त मतदान नहीं होगा. कोर्ट ने यह हॉर्स ट्रेडिंग के अंदेशे को लेकर कहा है. 

अब सिर्फ 28 घंटे के भीतर येदियुरप्पा सरकार को अपना बहुमत साबित करना पड़ेगा नहीं तो सरकार गिर जाएगी. कांग्रेस ने इसे सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला बताया है. वहीं बीजेपी नेता प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि बीजेपी फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित करेगी.

इससे पहले सुनवाई शुरू होने के बाद बीजेपी के वकील मुकुल रोहतगी ने सुप्रीम कोर्ट को राज्यपाल को दी हुई चिट्ठी सौंपी. मुकुल रोहतगी ने कहा कि कांग्रेस और जेडीएस के विधायक बीजेपी को सपोर्ट करेंगे और इस स्टैंड पर वह कुछ नहीं कहना चाहते.

इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हमारे पास दो विकल्प हैं- एक राज्यपाल के फैसले की पूरी विस्तृत सुनवाई करें. दूसरा क्यों ने कल ही बहुमत परीक्षण करा दें? सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बेहतर हो कल तक बहुमत परीक्षण हो. कोर्ट ने कहा कि राज्यपाल के फैसले का टेस्ट किया जाए और शनिवार को ही फ्लोर टेस्ट हो. जस्टिस सीकरी ने कहा कि फ्लोर टेस्ट हो जाना चाहिए और सदन को यह फैसला लेने दीजिए कि किसके पास बहुमत है.

वहीं कांग्रेस की ओर से दलील देते हुए वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि कांग्रेस शनिवार को बिना किसी देरी के फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार है. वहीं रोहतगी ने एक हफ्ते का टाइम मांगा है. उन्होंने फौरन बहुमत परीक्षण का विरोध किया.

First published: 18 May 2018, 12:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी