Home » इंडिया » Supreme court bench headed by Chief Justice of India TS Thakur directs to ban liquor on all State Highways
 

देशभर में नेशनल और स्टेट हाईवे पर शराब की दुकानें नहीं होंगी

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 December 2016, 11:51 IST
(सांकेतिक तस्वीर)

सुप्रीम कोर्ट ने देश के राष्ट्रीय राजमार्गों पर शराब की दुकानों को लेकर अहम फैसला सुनाया है. इसके साथ ही अब  नेशनल हाईवे पर कोई शराब की दुकान नहीं खुल सकेगी. 

सर्वोच्च अदालत ने ऐतिहासिक फैसला देते हुए कहा कि देशभर के नेशनल हाईवे और स्टेट हाईवे पर शराब की दुकानों पर प्रतिबंध लगाया जाता है. चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने यह फैसला सुनाया है. 

यात्रियों की सुरक्षा के लिए फैसला

सुप्रीम कोर्ट ने सभी राज्यों के मुख्य सचिव और पुलिस प्रमुखों को आदेश का अनुपालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं. 

अदालत ने फैसला सुनाते हुए कहा कि हाईवे पर यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए यह कदम उठाया गया है. कई हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह फैसला दिया है.

सुप्रीम कोर्ट के अहम निर्देश

1. देश के सभी नेशनल हाईवे और स्टेट हाईवे पर शराब की दुकानों को प्रतिबंधित किया जाता है.  

2. नेशनल और स्टेट हाईवे के आसपास की सभी दुकानों के लाइसेंस रद्द किए जाते हैं.

3. नेशनल हाईवे से 500 मीटर के दायरे में कोई भी शराब की दुकान नहीं खुलेगी.

4. 31 मार्च 2017 के बाद हाईवे पर मौजूद किसी भी शराब दुकान के लाइसेंस का रिन्यूवल नहीं होगा. तब तक के लिए शराब दुकानें संचालित की जा सकती हैं. 

5. नेशनल और स्टेट हाईवे पर शराब की दुकानों को इंगित करने वाले सभी संकेतों को प्रतिबंधित किया जाता है.

First published: 15 December 2016, 11:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी