Home » इंडिया » Supreme Court suspended the Centre's notification lifting the ban on jallikattu
 

जल्लीकट्टू: केंद्र की हरी झंडी को सुप्रीम कोर्ट ने दिखाई लाल झंडी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST

सुप्रीम कोर्ट ने तमिलनाडु के लोकप्रिय खेल जल्लीकट्टू पर बैन लगा दिया है. 7 जनवरी को केंद्रीय पर्यावरण और वन मंत्रालय ने एक अधिसूचना जारी करते हुए जल्लीकट्टू खेल को मंजूरी दी थी.

इस अधिसूचना के विरोध में एनिमल वेलफेयर बोर्ड ऑफ इंडिया ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी. याचिका की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने केंद्र सरकार के फैसले पर रोक लगा दी. सुप्रीम कोर्ट ने इस बारे में अंतरिम आदेश जारी कर दिया है.

तमिलनाडु में सैकड़ों सालों से जल्लीकट्टू एक लोकप्रिय खेल रहा है. हर साल जनवरी महीने में फसल कटाई के त्योहार पोंगल पर इस खेल का आयोजन होता है. तमिलनाडु में इस साल चुनाव होने वाला है. इसके मद्देनजर केंद्र का फैसला महत्वपूर्ण माना गया था.

गौरतलब है कि इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री जे जयललिता ने 22 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा था, पोंगल का त्योहार आने को है और यह बहुत जरूरी है कि जल्लीकट्टू के पारंपरिक आयोजन से गहरा लगाव रखने वाले तमिलनाडु के लोगों की भावनाओं का ख्याल रखा जाए.

First published: 12 January 2016, 2:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी