Home » इंडिया » Supreme Court will hear 144 petitions against CAA
 

CAA के खिलाफ 144 याचिकाओं पर आज सुप्रीम कोर्ट करेगी सुनवाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 January 2020, 9:20 IST

सुप्रीम कोर्ट आज विवादास्पद नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ 144 से अधिक याचिकाओं आज सुनवाई करेगा. भारत के मुख्य न्यायाधीश एस ए बोबडे की अध्यक्षता वाली तीन न्यायाधीशों वाली पीठ कानून की संवैधानिक वैधता की जांच करेगी. इन याचिकाओं में दावा किया गया है कि सीएए संविधान के मूल ढांचे के खिलाफ है और गैरकानूनी है. इनमें से कुछ याचिकाओं में 10 जनवरी से लागू कानून को वापस लेने की भी मांग की गई है.

इन याचिकाकर्ताओं में कांग्रेस सांसद जयराम रमेश, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग और इसके सांसद, लोकसभा सांसद और एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी, टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा, ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन और ट्राइबल रॉयल स्कोनियन प्रद्योत किशोर देब बर्मन शामिल हैं.

 

CAA में 31 दिसंबर 2014 को या उससे पहले पाकिस्तान, बांग्लादेश, और अफगानिस्तान से देश में आए हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाई, जैन और पारसी समुदायों से संबंधित गैर-मुस्लिम प्रवासियों को नागरिकता प्रदान की गई है. इस कानून लागू होने के बाद राष्ट्रव्यापी विरोध हुआ.

इससे पहले 18 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट ने नागरिकता संशोधन अधिनियम की वैधता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सरकार को नोटिस जारी किया था. हालांकि सुपीम कोर्ट ने उस दिन अधिनियम पर रोक लगाने से इनकार किया था. दिल्ली के शाहीन बाग़ में कई दिनों से सीएए के खिलाफ प्रदर्शन चल रहे हैं.

CAA पर एक कदम पीछे नहीं हटेंगे, विरोध प्रदर्शन चाहें तो जारी रखें : अमित शाह

 

First published: 22 January 2020, 8:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी