Home » इंडिया » suresh prabhu ordered an enquiry into the incident of mosquito bites in indigo flight at Lucknow Airport
 

प्रभु ने इंडिगो फ्लाइट में यात्री द्वारा की गई मच्छरों की शिकायत के दिए जांच के आदेश

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 April 2018, 17:35 IST
(ANI)

नागरिक उड्डयन व वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने को इंडिगो की फ्लाइट में मच्छरों के काटने की शिकायत के मामले की जांच के आदेश दिए हैं.सुरेश प्रभु ने इस मामले को लेकर ट्वीट क‍िया है. ट्वीट के मुताबि‍क उनका कहना है क‍ि मैंने लखनऊ एयरपोर्ट पर इंड‍िगो फ्लाइट द्वारा डॉक्‍टर सौरभ राय को नीचे उतारे जाने के मामले में जांच के आदेश दे द‍िए हैं.

लखनऊ में इंड‍िगो प्‍लेन में मच्‍छर होने की श‍िकायत पर डॉक्‍टर को नीचे उतारे जाने का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है. खबरों के अनुसार सोमवार (09 अप्रैल) सुबह करीब 6:05 बजे इंडिगो की फ्लाइट 6E-541 लखनऊ से बेंगलुरु के लिए जा रही थी. विमान उड़ने को तैयार हो ही रहा था कि डॉ. राय ने केबिन क्रू से मच्छरों के काटने की शिकायत की.जिसके बाद उनके साथ प्‍लेन में धक्‍कामुक्‍की और दुर्व्‍यवहार किया गया और फ्लाइट से नीचे उतार दिया गया.

इस पूरे मामले में डॉक्टर सौरभ राय का कहना है कि, इस दौरान मेरे साथ दुर्व्‍यवहार करते हुए कहा गया कि लखनऊ में तो मच्‍छर सामान्‍य बात है, हिंदुस्‍तान छोड़ के चले जाइए. इतना ही नहीं मुझे आतंकी कहते हुए सिक्‍योरिटी के बल पर प्‍लेन से नीचे उतार दिया गया. इसके अलावा मुझे इंडिगो की ओर से माफी मांगने के लिए दबाव बनाया गया कि मेरी वजह से फ्लाइट लेट हुई है.

वहीं इंडिगो ने इस संबंध में एक बयान जारी कर कहा, कि डॉक्‍टर सौरभ को शिकायत के लिए नहीं उतारा गया है. डॉक्टर सौरभ राय अभद्र भाषा का प्रयोग कर रहे थे और उन्होंने विमान को हाईजैक करने जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया.

सभी यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए उनको विमान से उतारा गया है.मच्छरों के सवाल पर कंपनी ने एनजीटी के आदेश का भी हवाला देते हुए कहा है, कि फ्लाइट में पैसेंजर होने पर स्प्रे का छिड़काव नहीं किया जा सकता. जब तक समस्या का समाधान किया जाता उससे पहले डॉक्टर उत्तेजित हो गए.

First published: 10 April 2018, 17:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी