Home » इंडिया » Surgical Strike: India Myanmar joint operation destroys 10 China supported militant camps
 

भारतीय सेना ने अब यहां किया सर्जिकल स्ट्राइक, चीन समर्थित उग्रवादी कैंपों को किया तबाह

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 March 2019, 15:13 IST

पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक के बाद अब भारतीय सेना ने म्यांमार की सेना के साथ मिलकर म्यांमार सीमा पर चीन समर्थित एक उग्रवादी समूह के 10 शिविरों पर सर्जिकल स्ट्राइक की है. इसे ऑपरेशन सनराइज नाम दिया गया. यह एक बड़ा अभियान था. इसमें चीन द्वारा समर्थित कचिन इंडिपेंडेंट आर्मी के उग्रवादी संगठन अराकान आर्मी को निशाना बनाया गया.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इन आतंकी शिविरों को म्यांमार के अंदर तबाह किया गया. यह अभियान 10 दिनों में पूरा हुआ. इसमें भारतीय सेना ने म्यांमार को हार्डवेयर और उपकरण मुहैया कराए और सीमा पर बड़ी संख्या में बलों को तैनात किया.

जानकारी मिली थी कि ये उग्रवादी कोलकाता को समुद्र मार्ग के जरिए म्यांमार के सितवे से जोड़ने वाली विशाल अवसंरचना परियोजना निशाना बना रहे हैं. इसके बाद यह ऑपरेशन चलाया गया. बता दें कि अवसंरचना परियोजना कोलकाता से सितवे के रास्ते मिजोरम पहुंचने के लिए एक अलग मार्ग मुहैया कराने वाली है. 2020 तक यह पूरी हो जाएगी.

इससे पहले पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर बालाकोट में आतंकी संगठनों पर एयर स्ट्राइक की थी. इसमें कथित तौर पर 200 से 300 आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया गया था.  

कौन है BJP का यह नेता जिससे अमित शाह ने कहा- 'देश की कोई भी लोकसभा सीट चुन लो.. टिकट दे देंगें'

पाकिस्तान के लिए जासूसी करता पकड़ा गया आर्मी का इलेक्ट्रीशियन, पुलवामा हमले की पहुंचाई थी जानकारी

First published: 16 March 2019, 14:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी