Home » इंडिया » Sushant Singh Rajput case: leaders of political parties of Bihar gave these reactions on Supreme Court verdict
 

सुशांत सिंह राजपूत केस : SC के फैसले पर बिहार में राजनीतिक दलों के नेताओं ने दी ये प्रतिक्रियाएं

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 August 2020, 16:01 IST

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत डेथ के मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा सीबीआई जांच की अनुमति देने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री समेत कई राजनीतिक दलों के नेताओं ने प्रतिक्रिया दी है. सीएम नीतीश कुमार ने कहा ''कहा सुप्रीम कोर्ट के फैसले से साफ होता है कि बिहार पुलिस की जांच और यहां दर्ज की गई FIR सही थी. सिर्फ सुशांत सिंह राजपूत का परिवार या बिहार के लोग ही नहीं, पूरा देश इस मामले को लेकर चिंतित है. सीबीआई जांच के साथ, लोग भरोसा कर सकते हैं कि न्याय होगा. उन्होंने कहा ''कुछ लोग इसे राजनीतिक रूप देना चाह रहे थे जबकि राज्य सरकार का मानना था कि इसका संबंध न्याय से है. मुझे भरोसा है कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद CBI यथाशीघ्र इस मामले की जांच करेगी और शीघ्र न्याय मिल सकेगा.

 

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ''सुप्रीम कोर्ट ने पटना पुलिस की FIR को सही मानते हुए CBI द्वारा अनुसंधान को सही बताया है, ये न्याय की जीत है. सुशांत सिंह राजपूत बहुत ही उदयमान कलाकार था,उसका इस दुर्भाग्य पूर्ण तरीके से जाना पूरे देश को पीड़ा दे गया''. उन्होंने कहा '' पूरे देश की पुकार थी कि न्याय मिलना चाहिए. आज मुझे इस बात का संतोष है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के आलोक में अब एक ईमानदार जांच होगी और जो भी दोषी हैं उनके खिलाफ कार्रवाई होगी. ये समयबद्ध होनी चाहिए.


बीजेपी नेता और अभिनेता रवि किशन ने कहा ''सुप्रीम कोर्ट का शुक्रिया की उसने ऐसा फैसला लिया, इससे न्यायपालिक पर पूरे देश का विश्वास और पुख्ता हो गया. अब कम से कम ये साफ हो जाएगा कि ये मौत है, आत्महत्या है या फिर हत्या. केंद्रीय मंत्री व आरा से MP आर. के. सिंह ने कहा '' ये (CBI जांच) बिहार के लोगों के लिए बहुत ही संतोष की बात है. दुर्भाग्यपूर्ण ये था कि पिछले 50-60 दिनों से इन्वेस्टिगेशन के नाम पर मुंबई पुलिस केस को डाइवर्ट करने की राह में कार्रवाई कर रही थी. कानून के अनुसार कार्रवाई नहीं कर रही थी.

 

RJD नेता तेजस्वी यादव ने कहा ''30 जून से हम लगातार CBI जांच की मांग कर रहे थे. लेकिन बिहार सरकार 42 दिन बाद संज्ञान लेती है. हमने 26 जून को CM को चिट्ठी भी लिखी थी जिसमें हमने CBI जांच और फिल्म सिटी का नाम सुशांत के नाम पर रखने की मांग की थी. अब तक इस पर बिहार सरकार ने कोई जबाव नहीं दिया है.

सुशांत सिंह राजपूत मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बिहार के मंत्री संजय झा ने कहा ''इसका मतलब है कि बिहार में जो FIR दर्ज हुई थी वो सही थी. CBI को जांच देने की जो सिफारिश की गई थी वो सही थी और मुंबई पुलिस जैसे मामले को रफा-दफा करने की कोशिश कर रही थी वो उजागर हुआ है''.

लोक जनशक्ति पार्टी सांसद' चिराग पासवान ने कहा 'मैं उच्चतम न्यायालय का धन्यवाद करूंगा कि उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत मामले में CBI जांच के आदेश दिए. उम्मीद है कि अब इस मामले में सच्चाई सामने आएगी और वो नाम भी सामने आएंगे जिन्होंने इस मामले को भटकाने का प्रयास किया''.

महाराष्ट्र पूर्व CM देवेंद्र फडणवीस ने कहा ''SC ने जो फैसला दिया है उससे जनता का न्याय व्यवस्था पर विश्वास बढ़ेगा. जिस प्रकार से इस केस को महाराष्ट्र में हैंडल किया गया, मुझे लगता है कि महाराष्ट्र सरकार को इस पर आत्मचिंतन करना चाहिए. हम अपेक्षा करते हैं कि CBI जल्द से जल्द जांच करेगी''. बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने कहा ''मैं बहुत खुश हूं ये अन्याय के विरुद्ध न्याय की जीत है. सर्वोच्च न्यायालय ने जो फैसला दिया है उससे 130 करोड़ जनता के दिल में माननीय सर्वोच्च न्यायालय के लिए जो आस्था थी वो और ज्यादा दृढ़ हुई है.

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर रिया चक्रवर्ती के वकील ने कहा '' सुप्रीम कोर्ट ने मामले के तथ्यों और परिस्थितियों की जांच करने और मुंबई पुलिस की रिपोर्ट देखने के बाद पाया कि यह वांछित न्याय होगा क्योंकि रिया ने खुद CBI जांच के लिए कहा था. वकील सतीश मणेशिंदे ने कहा ''रिया सीबीआई जांच में पेश होंगी और उसका सामना करेंगी जैसा उन्होंने पहले मुंबई पुलिस और प्रवर्तन निदेशालय(ED) की जांच में किया था.

रिया चक्रवर्ती की हैसियत नहीं है कि बिहार के मुख्यमंत्री के बारे में कोई प्रतिकूल टिप्पणी करें- DGP, बिहार

First published: 19 August 2020, 15:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी