Home » इंडिया » Sushma Swaraj Says If terrorism is not a poll issue, then Rahul Gandhi should remove SPG security
 

कांग्रेस के लिए आतंकवाद नहीं है कोई मुद्दा तो राहुल गांधी हटा लें SPG सुरक्षा: सुषमा स्वराज

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 April 2019, 13:11 IST

कांग्रेस के घोषणापत्र में आतंकवाद का मुद्दा ना शामिल किए जाने पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सोमवार को राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर राहुल गांधी के लिए आतंकवाद कोई समस्या चुनाव में कोई मुद्दा नहीं है, तो वे अपनी सुरक्षा में लगी एसपीजी क्यों नहीं हटा लेते. सुषमा स्वराज ने ये बात सोमवार को मथुरा में बीजेपी की सोशल मीडिया इकाई द्वारा आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा.

इस दौरान सुषमा स्वराज ने कांग्रेस के साथ-साथ महागठबंधन के दलों पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा,  "वे जनता की नब्ज नहीं जानते जबकि प्रधानमंत्री अच्छे से पहचानते हैं. इसीलिए तो उन्होंने उड़ी के बाद सर्जिकल स्ट्राइक और पुलवामा हमले के बाद एअर स्ट्राइक के जरिए पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब देने का काम किया. असल में कांग्रेस के लिए तो देश में आतंकवाद कोई समस्या ही नहीं है. उनके यहां तो आतंकवादियों को ‘जी’ और ‘साहब’ कहकर सम्बोधित किया जाता है. इसीलिए तो कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में देश में लंबे समय से व्याप्त इस समस्या या इसके निदान का कोई जिक्र ही नहीं किया है जबकि भाजपा आतंकवाद को समूल नष्ट करने के लिए प्रतिबद्ध है."

विदेश मंत्री ने सम्मेलन में राहुल गांधी का नाम लेते हुए कहा, "मैं राहुल गांधी का आह्वान करती हूं कि वह यदि ऐसा सोचते हैं तो खुद भी क्यों एसपीजी की सुरक्षा चाहते हैं. वह सरकार को एक पत्र लिखकर एसपीजी की सुरक्षा व्यवस्था वापस कर दें. तब देश का इतना खर्चा तो नहीं होगा. यह बड़ी शर्म की बात है कि जब सेना के जवान जान पर खेलकर आतंकवादियों को करारा जवाब देते हैं तो विपक्ष के नेता पूछते हैं कितने मरे, प्रमाण दो. वे अपनी सेना के कहे को तो नहीं मानते. लेकिन पाकिस्तानी सेना जो कहती है तो उसे जरूर मान लेते हैं. ऐसे लोगों को हमारी जनता वोट क्यों देगी."

इसी के साथ सोमवार को बीजेपी द्वारा जारी घोषणा पत्र का जिक्र करते हुए सुषमा स्वराज ने कहा, "भाजपा का संकल्प पत्र पेश करते समय प्रधानमंत्री ने साफ कहा है कि हमारी तीन प्राथमिकताएं हैं- राष्ट्रवाद, अंत्योदय और सुशासन. भाजपा इन तीनों मुद्दों पर पूरी तरह से प्रतिबद्ध है. हमारी सरकार के लिए राष्ट्र की सुरक्षा सर्वोपरि है. अन्य मुद्दे भी जरूरी हैं परंतु, इनसे कोई समझौता नहीं. यही भाजपा का संकल्प है."

First published: 9 April 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी