Home » इंडिया » Swachh Bharat report: 19 of India’s 25 dirtiest cities are in West Bengal, Darjeeling on the list
 

स्वच्छ भारत रिपोर्ट: सबसे ज्यादा गंदे शहर पश्चिम बंगाल में, सबसे साफ इंदौर

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 June 2018, 10:48 IST

शनिवार को जारी एक सरकारी रिपोर्ट के माने तो 1 लाख से ज्यादा आबादी वाले भारत के 25 सबसे गंदे शहरों में से अठारह पश्चिम बंगाल में हैं. दार्जिलिंग, सिलीगुड़ी, सेरामपुर, मध्यमग्राम, उत्तरी बैरकपुर, बांकुरा वो शहर हैं, जिनमे अपशिष्ट संग्रह, खुले शौचालय, ठोस अपशिष्ट प्रसंस्करण और निपटान जैसे सभी स्वच्छता संकेतकों में कमी पायी गई.

रिपोर्ट के अनुसार झारखंड को सबसे स्वच्छ राज्य माना गया है. जबकि इसके बाद इसके बाद महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ हैं. सरकार ने पिछले महीने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले शहरों और राज्यों के लिए पुरस्कारों की एक सूची जारी की थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा शनिवार को राष्ट्रव्यापी स्वच्छता सर्वेक्षण के आधार पर रिपोर्ट जारी की. त्रिपुरा स्वच्छ राज्यों की सूची के नीचे था, इसके बाद पुडुचेरी, नागालैंड और पश्चिम बंगाल का स्थान है. हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार पश्चिम बंगाल ने 2016 और 2017 में सर्वेक्षण में भाग नहीं लिया था.

इंदौर को लगातार दूसरे साल साफ शहर घोषित किया गया है. जबकि भोपाल दूसरे स्थान और चंडीगढ़ तीसरे स्थान पर है. यह सर्वेक्षण 2016 में पहली बार आयोजित किया गया था, जनवरी और मार्च के बीच 4,203 शहरी स्थानीय निकायों का अध्ययन किया गया. इस साल सर्वेक्षण में छावनी बोर्ड भी शामिल थे. छावनी बोर्डों की सूची में दिल्ली सबसे ऊपर है.

सर्वेक्षण ने छह मानकों के आधार और उनके प्रदर्शन के आधार पर शहरों को स्थान दिया, जिसमें नगरपालिका ठोस अपशिष्ट, उनके प्रसंस्करण और निपटान, स्वच्छता से संबंधित प्रगति, नवाचार और शहरों द्वारा अनुकूलित सर्वोत्तम प्रथाओं के संग्रह और परिवहन शामिल हैं. दक्षिण दिल्ली नगर निगम 202 की पिछले रैंक से 32 वें स्थान पर पहुंच गया. नई दिल्ली नगर परिषद को भारत का सबसे साफ छोटा शहर चुना गया है.

ये भी पढ़ें : CBDT ने चुनाव आयोग से कहा सांसदों और विधायकों की संपत्ति की जानकारी सार्वजनिक न हो

First published: 24 June 2018, 10:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी