Home » इंडिया » Swami agnivesh said arrested were allowed to walk free after few hours, this seems to be a drama
 

स्वामी अग्निवेश बोले- मेरी हत्या की थी साजिश, आरोपियों की गिरफ्तारी महज ड्रामा है

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 July 2018, 14:28 IST

झारखण्ड में स्वामी अग्निवेश पर हमले के आरोप में गिरफ्तार किये लोगों को लेकर स्वामी अग्निवेश ने बड़ा बयान दिया है. स्वामी अग्निवेश का कहना है कि हमले के आरोपियों को गिरफ्तार करना महज एक ड्रामा है. उन्होंने कहा कि गिरफ्तार किए गए लोगों को कुछ ही घंटों के बाद खुलकर टहलने की इजाजत थी.

स्वामी अग्निवेश ने आरोप लगाया कि ''ऐसा लगता है कि यह नाटक है. डीआईजी द्वारा आदेश दिया गया और वह पूछताछ भी नकली लगती है. मैं रांची हाईकोर्ट के सेवानिवृत्त न्यायाधीश द्वारा इसकी जांच की मांग करता हूं''. स्वामी अग्निवेश ने कहा ''यह हत्या का प्रयास था. मेरी हत्या हो सकती थी और यह पूर्व योजनाबद्ध थी''.

 

इससे पहले स्वामी अग्निवेश पर हुए हमले को लेकर झारखंड सरकार में नगर विकास और परिवहन मंत्री सीपी सिंह ने अग्निवेश को फ्रॉड करार दिया है. उन्होंने कहा कि वह विदेशी चंदे पर जीने वाले व्यक्ति हैं. भगवा वस्त्र की आड़ में वह आम भारतीयों को धोखा दे रहे हैं. सीपी सिंह ने कहा कि अग्निवेश फ्रॉड हैं, ना कि स्वामी. उन्होंने लोकप्रियता हासिल करने के लिए खुद पर हमला करवाया.

 

गौरतलब है कि झारखंड में भाजपा कार्यकर्ताओं पर समाजसेवी स्वामी अग्निवेश के साथ मारपीट का आरोप लगा था. आरोप है कि भाजपा के कार्यकर्ताओं ने उनके कपड़े भी फाड़े. दरअसल, स्वामी अग्निवेश मंगलवार को झारखंड के पाकुड़ जिले के लिट्टीपाड़ा में 195वें दामिन महोत्सव में हिस्सा लेने पहुंचे थे.

इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने उन पर आदिवासियों को भड़काने की बात कहकर टूट पड़े. पहले वह वापस जाओ के नारे लगा रहे थे. फिर थोड़ी देर में हाथापाई की नौबत आ गई. इस वजह से उन्हें महोत्सव में जाने से रोक दिया गया. जिसके बाद वह पाकुड़ के मुस्कान होटल वापस लौट आए.

ये भी पढ़ें : झारखंड: BJP कार्यकर्ताओं ने स्वामी अग्निवेश की जमकर की पिटाई, फाड़े कपड़े

First published: 18 July 2018, 14:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी