Home » इंडिया » syed salahuddin threatening to indian army
 

सैयद सलाउद्दीन ने दी भारत को कायराना धमकी, 'कश्मीर को भारतीय सेना की कब्रगाह बना दूंगा'

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:47 IST
(एजेंसी)

हिजबुल मुजाहिद्दीन के कुख्यात आतंकी सैयद सलाउद्दीन ने भारत और भारतीय सुरक्षाबलों के खिलाफ फिर विवादास्पद टिप्पणी की है.

कश्मीर में और ज्यादा आत्मघाती दस्ते भेजने की धमकी देते हुए सलाउद्दीन ने कहा है कि वह घाटी को 'भारतीय फौजों की कब्रगाह' बना देगा. एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में उसने कहा है कि वह इस लड़ाई को कश्मीर से बाहर ले जाएगा.

इस इंटरव्यू में उसने कहा कि आतंकवाद के अलावा कश्मीर का कोई समाधान नहीं है. सलाउद्दीन ने कहा, "कश्मीर के नेताओं, वहां के लोगों और मुजाहिद्दीन को यह मान लेना चाहिए कि कश्मीर मुद्दे का कोई औपचारिक और शांतिपूर्ण रास्ता नहीं हो सकता."

उसने धमकी देते हुए कहा कि कश्मीर में 'मकसदपूर्ण सशस्त्र युद्ध छेड़ने' के अलावा कोई विकल्प नहीं है. हिजबुल के इस आतंकी का बयान ऐसे समय में आया है जब गृहमंत्री राजनाथ सिंह के नेतृत्व वाला एक प्रतिनिधिमंडल कश्मीर दौरे पर गया है.

हिजबुल के सरगना ने कहा कि घाटी में उसके कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद कश्मीर में आंदोलन महत्वपूर्ण पड़ाव पर पहुंच चुका है.

उसने कहा "ये कुर्बानियां व्यर्थ नहीं होंगी. वे बल प्रयोग द्वारा अलगाववादियों तथा आजादी की मांग करने वाले आंदोलन को और मजबूत करेंगे. जब तक भारत कश्मीर को एक विवादित जगह नहीं मानता तब तक बातचीत का सवाल ही नहीं उठता."

सलाउद्दीन ने आत्मघाती हमलों को जायज ठहराते हुए कहा, "आंध्र प्रदेश, मद्रास, असम, नागालैंड, हरियाणा, बिहार और दिल्ली के सैनिक हमारे घरों की शुचिता पर हमला करते हैं, तो हम आत्मघाती हमले करने और इसे जायज मानने को मजबूर होंगे."

सलाउद्दीन ने कहा, "मेरा हथियार उठाने का प्रमुख कारण जम्मू-कश्मीर में फर्जी और धांधली वाले चुनाव करवाना है."

गौरतलब है कि सैयद सलाहुद्दीन 1990 से पहले कश्मीर में यूसुफ शाह के नाम से जाना जाता था. वह 1987 में कश्मीर में विधानसभा का चुनाव भी लड़ चुका है. अब वह पाकिस्तान में यूनाइडेट जिहाद काउंसिल का सरगना है.

First published: 4 September 2016, 3:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी