Home » इंडिया » telangana deputy cm given controversial remark on gopichand
 

तेलंगाना के डिप्टी सीएम का 'ज्ञान' किया 'गुरु गोपीचंद' का अपमान, जानिए क्या कहा?

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 February 2017, 8:21 IST
(एजेंसी)

रियो ओलंपिक में भारत के लिए सिल्‍वर मेडल लाने वाली पीवी सिंधू के कोच और बैडमिंटन के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी पुलेला गोपीचंद का अपमान हुआ है.

गोपीचंद का अपमान उस समय हुआ, जब सिल्वर मेडल जीतने वाली पीवी सिंधू के सम्‍मान समारोह में तेलंगाना के उपमुख्‍यमंत्री महमूद अली ने शर्मानाक बयान दिया.

'नया कोच देने पर विचार'

उन्होंने गच्ची बावली स्‍टेडियम में सिंधू के स्‍वागत से पहले कहा, ”हम पीवी सिंधू को उपयुक्‍त कोच उपलब्‍ध कराने पर विचार कर रहे हैं, जिससे वे देश के लिए अगली बार गोल्‍ड मेडल जीत सकें.

वर्तमान में उनके पास जो कोच है, वह भी अच्‍छा है, लेकिन हम उससे अगले टूर्नामेंट में गोल्‍ड की उम्‍मीद करते हैं. इसलिए तेलंगाना सरकार सिंधू को नया कोच देने पर विचार कर रही है.”

वर्तमान में सिंधू के कोच पुलेला गोपीचंद हैं. वे हैदराबाद में बैडमिंटन एकेडमी भी चलाते हैं. सिंधू ने यहीं पर ट्रेनिंग ली थी.

साइना-सिंधू और कश्यप जैसे सितारे दिए

गौरतलब है कि तेलंगाना की के चंद्रशेखर राव सरकार ने रियो में सफलता के बाद पीवी सिंधू के लिए 5 करोड़ रुपये का एलान किया था. इसके साथ ही प्रदेश सरकार ने गोपीचंद को भी एक करोड़ रुपये देने की घोषणा की है.

साल 2003 में गोपीचंद को तत्कालीन सीएम चंद्रबाबू नायडू ने पांच एकड़ जमीन देने का फैसला किया था. इसी जमीन पर उन्‍होंने अपनी एकेडमी बनाई थी. इस एकेडमी ने साइना नेहवाल, किदाम्‍बी श्रीकांत, पीवी सिंधू और पी कश्‍यप जैसे कई बैडमिंटन सितारे दिए हैं.

First published: 22 August 2016, 5:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी