Home » इंडिया » telangana govt apposo state bank of hyderabad merged with sbi
 

तेलंगाना सरकार ने स्टेट बैंक आॅफ हैदराबाद के एसबीआई में विलय का किया विरोध

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:47 IST
(एजेंसी)

तेलंगाना की चंद्रशेखर राव सरकार ने स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद के भारतीय स्टेट बैंक में प्रस्तावित विलय का कड़ा विरोध किया है.

राज्य के वित्त मंत्री एटेला राजेन्द्र ने बृहस्पतिवार को कहा, "स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद को अपनी पहचान बनाए रखनी चाहिए. यह एक तेलंगाना बैंक है. इसे इसी तरह रहना चाहिए."

उन्होंने कहा, "यह 1956 से भी पहले अस्तित्व में था और यह निजाम के शासनकाल के दौरान पूववर्ती हैदराबाद की रियासत से जुड़ा रहा है."

राज्य के वित्त मंत्री से यह पूछे जाने पर कि क्या राज्य विधानसभा में इसके खिलाफ कोई प्रस्ताव लाए जाने का विचार है जैसा कि केरल सरकार ने स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर के स्टेट बैंक में विलय के खिलाफ प्रस्ताव पास किया है.

उन्होंने जवाब दिया कि इस बारे में उन्होंने अभी तक मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के साथ बातचीत नहीं की है. हालांकि, उन्होंने कहा, "हमें इस बारे में कोई फैसला लेना होगा."

गौरतलब है कि मोदी सरकार की केंद्रीय मंत्रिमंडल ने हाल ही में भारतीय स्टेट बैंक के पांच सहयोगी बैंकों के इसके साथ विलय करने को अपनी मंजूरी दी है.

स्टेट बैंक आफ हैदराबाद, स्टेट बैंक आफ त्रावणकोर, स्टेट बैंक आफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला और स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर के साथ भारतीय महिला बैंक का इसमें विलय किया जाएगा.

First published: 18 August 2016, 1:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी