Home » इंडिया » Telangana Honor Killing: 1 crore supari to kill youth who did inter cast marriage
 

तेलंगाना ऑनर किलिंग: युवक को मारने के लिए दी थी 1 करोड़ की सुपारी, ISI से जुड़ा था किलर

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 September 2018, 15:04 IST

तेलंगाना में एक गर्भवती युवती के सामने उसके पति की बेरहमी से हत्या करने के मामले में नया खुलासा हुआ है. पुलिस ने इस मामले में सात लोगों की गिरफ्तारी की है. बिहार से पुलिस ने इन लोगों को गिरफ्तार किया. गिरफ्तार लोगों में हत्या करने वाला व्यक्ति भी शामिल है. पुलिस सूत्रों की मानें तो ह्त्या करने वाले गैंग को 1 करोड़ की सुपारी दी गई थी. पुलिस ने ये भी बताया कि इस राशि में से 18 लाख का भुगतान किया जा चुका था. इसी के साथ इस गैंग के पाकिस्तान और आईएसआई से भी कनेक्शन है.

पुलिस के अनुसार इस हत्यारे को गुजरात के पूर्व मंत्री हरेन पांड्या की हत्या में भी शामिल पाया गया है. और उसे इसके लिए दोषी भी करार दिया गया था जिसके बाद उसने 2003 तक जेल में सजा काटी.

गौरतलब है की तेलंगाना में झूठी शान के लिए एक शख्स की हत्या कर दी गई थी. मामला नालगोंडा जिले का है. जहां 23 साल के एक शख्स की उसकी प्रेग्नेंट बीवी के सामने हत्या कर दी गई थी. पति-पत्नी जिले के मिरयालागुडा के एक अस्पताल से डॉक्टर को दिखाकर लौट रहे थे.

2014 से अब तक PM मोदी की संपत्ति में हुआ लाखों का इजाफा, लेकिन नहीं खरीदी एक भी कार

अमृता पर अबॉर्शन के लिए भी दबाव बना रहे थे, लेकिन उन्होंने ऐसा करने से इंकार कर दिया. अमृता के मुताबिक, प्रणय बहुत अच्छे इंसान थे. वह उनकी बहुत अच्छे से देखभाल करते थे, खासकर प्रेग्नेंट होने के बाद बहुत ध्यान रखते थे. अमृता कहती हैं कि मुझे नहीं पता कि इस दौर में भी जाति इतनी महत्वपूर्ण क्यों है?

इस मामले में पुलिस ने अमृता के पिता मारुति राव और चाचा श्रवण को गिरफ्तार कर लिया है. मारुति राव व्यापारी हैं. बता दें कि प्रणय और अमृता स्कूल के दिनों से ही एक दूसरे को जानते थे. दोनों के परिवार ही उनकी शादी का लगातार विरोध कर रहे थे, क्योंकि प्रणय अनुसूचित जाति से थे और अमृता वैश्य जाति से हैं.

First published: 19 September 2018, 9:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी