अलर्ट का दूसरा सबसे ऊंचा स्तर है ऑरेंज अलर्ट. यह केवल रेड अलर्ट के लिए जारी किया जाता है. इसे जारी करने के बाद स्कूलों को बंद कर दिया जाता है और एयरबेस के आसपास की आवाजाही पर पूरी तरह रोक लग जाती है.

हमले के अलर्ट के बाद सेना के वरिष्ठ अधिकारी खतरे से निपटने के लिए सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा कर रहे हैं. पिछले महीने ही एक रिपोर्ट आई थी कि पाकिस्तान ने गुजरात के सरक्रीक इलाके में स्पेशल सर्विस ग्रुप कमांडो तैनात किए हैं.

'जाहिल हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, उन्हें राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में कुछ नहीं पता'

पाक PM इमरान खान और विदेश मंत्री का पकड़ा गया झूठ, अपने ही देशवासियों को मिलकर बनाया मूर्ख