Home » इंडिया » Terrorist attack inputs again reported in delhi red fort security increased
 

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले पर आतंकी हमले की साजिश, खुफिया विभाग ने किया सतर्क

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 August 2019, 17:27 IST

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर और उसके बाद दिल्ली में आतंकी हमले होने के इनपुस्ट एक बार फिर प्राप्त हुए हैं. दिल्ली पुलिस को दिए गए इनपुट्स में खुफिया विभाग ने कहा है कि आतंकी जम्मू कश्मीर से 370 हटने की वजह से बौखलाए हुए हैं. विभाग ने कहा है कि आतंकी दिल्ली पर कभी भी हमला कर सकते हैं. इस हमले में किसी भी वाहन का इस्तेमाल हो सकता है. विभाग से मिली सूचना के बाद दिल्ली में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. वहीं, लालकिले पर भी सुरक्षा के स्तर को बढ़ा दिया गया है. आतंकी हमले की संभावना को देखते हुए लालकिले के चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी कैमरा लगाए गए हैं.

खुफिया विभाग से मिले इनपुट्स के बाद सभी थाने और सभी क्षेत्रों के पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है. दिल्ली के सभी क्षेत्र में सुरक्षा बढ़ा दिया गया है, जहां-तहां पिकेट लगा कर चेकिंग की जा रही है. दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने रविवार को जनरल गश्त बुलाई. इसके साथ वे खुद भी गश्त के लिए निकले.

उत्तरी जिले की डीसीपी नुपुर प्रसाद ने इस बारे में सोमवार को मीडिया को बताया कि "15 अगस्त को देखते हुए लालकिले की सुरक्षा को पुख्ता किया गया है. लालकिले की सुरक्षा के लिए मचान बनाए गए हैं. बहुत सारे चेक पाइंट बनाए गए हैं. स्थानीय पुलिस के अलावा सुरक्षा यूनिट, एनएसजी, एसपीजी व सेना के जवान तैनात रहेंगे. लालकिले की निगरानी के लिए चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. लालकिले के आस-पास करीब 800 कैमरे लगाए गए हैं. चेहरे को पढ़ने वाले साफ्टवेयर का इस्तेमाल किया गया जा रहा है."

उत्तरी जिला डीसीपी नुपुर प्रसाद ने कहा, "लालकिले के पास और दिल्ली के क्षेत्र में ड्रोन के उड़ानों पर रोक लगा दी गई है. इसके साथ-साथ पतंग उड़ाने पर भी रोक लगी रहेगी. लालकिले के कार्यक्रम के दौरान सुबह 7:30 बजे से लेकर 8:30 बजे तक पतंग उड़ाने पर रोक रहेगी. लालकिले की सुरक्षा में 10 कंपनियां तैनात की गई हैं."

दिल्ली एयरपोर्ट को मिली उड़ाने की धमकी, कहा- बचा सको तो बचा लो

First published: 13 August 2019, 9:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी