Home » इंडिया » Thakur daughters of Mulaym family will capture Thakur vote?
 

मुलायम परिवार पर ठाकुर बहुओं का कब्जा क्या ठाकुर वोट भी दिलाएगा?

पत्रिका ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:47 IST
(पत्रिका)

समाजवादी पार्टी पर अक्सर यादवों की पार्टी होने का ठप्पा लगता है. लेकिन सपा के राज्यसभा सदस्य अमर सिंह का कहना है कि जो लोग सपा को एक जाति विशेष की पार्टी कहते हैं वे गलत हैं. मुलायम सिंह यादव का परिवार तो सर्वसमाज को बढ़ावा देता है.

अमर सिंह ने बताया कि खुद मुलायम सिंह की तीन बहुए ठाकुर परिवार से हैं. अमर सिंह आगामी विधानसभा चुनाव में ठाकुर-यादव गठजोड़ से जीत दिलाने का फार्मूला भी दे रहे हैं. वे कहते हैं जीत के इस नए मंत्र से सपा को दोबारा सरकार बनाने से कोई नहीं रोक सकता.

ठाकुर अमर सिंह का कहना है कि सपा मुखिया लोग अनायास जातिवादी होने का आरोप लगाते हैं. वे कहते हैं यादव परिवार जातिवादी होता तो उनकी तीन बहुएं ठाकुर जाति से नहीं होतीं.शिवपाल यादव की बहू, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल और मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा, तीनों ठाकुर हैं. ऐसे में समाजवादी पार्टी पर यादवों का समर्थन करने की बात कोई कैसे कह सकता है.

मुलायम की बड़ी बहू डिम्पल

डिंपल यादव मुलायम परिवार की बड़ी बहू हैं. सीएम अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव उत्तराखंड की हैं. इनके पिता रिटायर्ड आर्मी कर्नल एससी रावत अलमोड़ा में पोस्टेड थे. गौरतलब है उत्तराखंड में रावत क्षत्रिय होते हैं. कॉमर्स की स्टूडेंट रहीं डिम्पल ने लखनऊ यूनिवर्सिटी से बीकॉम की डिग्री हासिल की. पेंटिंग और घुड़सवारी की शौकीन डिंपल के तीन बच्चे हैं. कन्नौज से निर्विरोध सांसद बनी डिंपल के तीन बच्चे अदिति, टीना और अर्जुन हैं. राजनीति में अपने पति का हाथ बटाने के अलावा डिंपल मुख्यमन्त्री अखिलेश यादव का ट्विटर व फेसबुक अकाउण्ट भी संभालती हैं.

अपर्णा भी ठाकुर परिवार से

अपर्णा यादव, मुलायम सिंह यादव के छोटे पुत्र प्रतीक यादव की पत्नी हैं. ये वरिष्ठ पत्रकार तथा उत्तर प्रदेश के सूचना आयुक्त रहे अरविंद सिंह बिष्ट की बेटी हैं. अपर्णा यादव सपा से लखनऊ कैंट विधानसभा सीट से इ बार समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार भी हैं. अपर्णा देश के प्रमुख सियासी यादव कुनबे की बीसवीं सदस्य हैं जो सियासत में उतरी हैं. अभी तक यादव परिवार में 19 लोग किसी न किसी रूप में सक्रिय राजनीति कर रहे हैं. अपर्णा यादव के पति प्रतीक यादव बिजनेसमैन हैं.

शिवपाल की बहू राजलक्ष्मी भी ठाकुर

मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई शिवपाल यादव के बेटे आदित्य यादव की शादी राजलक्ष्मी से हुई है. राजलक्ष्मी के पिता संजय सिंह भी राजपूत घराने से ताल्लुक रखते हैं. राजलक्ष्मी की मां शारदा कुंवर सिंह राजपूताना मैहर स्टेट की राजकुमारी रही हैं.

राजलक्ष्मी के नाना राजा कुंवर नारायण सिंह जूदेव तीन बार एमएलए रह चुके हैं. कुंवर नारायण सिंह के पिता महाराजा बृजनाथ सिंह जूदेव ने मैहर में शारदा देवी के मंदिर का जीर्णोद्धार कराया था. हिमाचल प्रदेश के वर्तमान सीएम वीरभद्र सिंह राजलक्ष्मी के नाना लगते हैं. वे शारदा कुंवर सिंह के फूफा हैं.

राजलक्ष्मी के पिता संजय सिंह एक दौर में पूर्व पीएम स्व. राजीव गांधी के करीबियों में शामिल रहे. राजीव गांधी की मौत के बाद संजय सिंह राजनीति छोड़कर कंस्ट्रक्शन के क्षेत्र से जुड़ गए. राजलक्ष्मी ने लॉरेटो गर्ल्स कॉन्वेंट स्कूल से इंटरमीडिएट और लखनऊ यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किया है. आजमगढ़ जिले के लालगंज तहसील का सलेमपुर संजय सिंह का पैतृक गांव है.

उत्तर प्रदेश में 9 फीसदी ठाकुर

अमर सिंह का कहना है कि समाजवादी पार्टी में सभी जातियों और धर्मो का बराबर सम्मान होता है. उन्होंने ठाकुर-यादव समीकरण को जातिवाद से प्रेरित होने से इंकार किया. उनका मानना है कि चुनाव जीतने को नए-नए फार्मूले अपनाए जाते हैं. उनमें एक यह भी है. उनका कहना है कि ठाकुर को जब यादव परिवार में बेटी देने में ऐतराज़ नहीं तो वोट देने में भी कोई आपत्ति नहीं होगी. उन्होंने कहा कि वे खुद यादव महा सम्मेलनों में जाते रहे हैं. उत्तर प्रदेश में 9 फीसदी ठाकुर हैं. ये सपा से जुड़े रहे हैं

First published: 8 September 2016, 7:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी