Home » इंडिया » Coronavirus: The fight will be won through vaccine and drugs says Niti Aayog
 

नीति आयोग का बयान- देश में कोरोना वायरस को लेकर चल रहा 9 दवाओं का ट्रायल

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 May 2020, 19:17 IST

Coronavirus: कोरोना वायरस का प्रकोप दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है. इस बीच नीति आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया है कि वैक्सीन और दवा से कोरोना वायरस का इलाज होगा. नीति आयोग स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के सदस्‍य वीके पॉल ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि भारत में कोरोना वायरस के खिलाफ 9 दवाओं का ट्रायल चल रहा है.

उन्होंने बताया कि देश की लगभग 20 नई कंपनियां कोरोना वायरस के लिए टेस्‍ट किट बना रही हैं. वीके पॉल ने जानकारी दी कि जुलाई तक देश में 5 लाख स्‍वदेशी किट रोजाना तैयार हो जाएगी. भारत कई वैक्‍सीन का ट्रायल कर रहा है. उन्होंने जानकारी दी कि फैवीपेराविर एंटी वायरल ड्रग है. इसका ट्रायल हो रहा है.

इसके अलावा जिन दवाओं का ट्रायल चल रहा है उसमें माइक्रोबैक्‍टीरियम डब्‍ल्‍यू का नाम भी है. यह दवा इम्‍यूनिटी बढ़ाती है. इसके अलावा अरबिडोल, रैमडिसिविर, कंवैसलेंट प्‍लाज्‍मा का ट्रायल आईसीएमआर की देखरेख में चल रहा है. वहीं हाइड्रॉक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन दवा जो एंटी मलेरियल दवा है. इसका इस्‍तेमाल भारत में मलेरिया के खिलाफ काफी पहले से हो रहा है. इसका ट्रायल भी चल रहा है.

वहीं फाइटो फार्मास्‍यूटिकल जो एक पेड़ से जुड़ा एक हिंदुस्‍तानी प्रोडक्‍ट है. इसका ट्रायल सीएसआईआर की लैब से आगे बढ़ रहा है. वहीं, इटोलीजुमैब का ट्रायल चल रहा है. यह आर्थराइटिस की दवा है. बीसीजी वैक्‍सीन का भी ट्रायल चल रहा है. यह हमने बचपन में ली हुई है. इसे दोबारा लेने से व्‍यक्ति का इम्‍यून सिस्‍टम बढ़ जाता है. उन्होंने बताया कि यह इम्‍यून सिस्‍टम कोविड 19 से जंग लड़ सकता है.

LAC पर युद्ध और तनाव की ख़बरों पर चीन से आयी बड़ी प्रतिक्रिया, कहा- स्थिति नियंत्रण में है

सब्जी वाले ने लोगों की मदद का निकाला अनोखा तरीका, जानकर आप भी करेंगे सलाम

First published: 28 May 2020, 19:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी